Top
undefined

महाराष्ट्र, पंजाब, जम्मू कश्मीर और चंडीगढ में कोरोना की बढी रफ्तार

गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को वैक्सीनेशन और कोविड मैनेजमेंट से जुड़े आधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. हर्षवर्धन भी मौजूद रहे। इस दौरान शाह ने कोरोना के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए तत्काल उचित कार्य करने की हिदायत दी।

महाराष्ट्र, पंजाब, जम्मू कश्मीर और चंडीगढ में कोरोना की बढी रफ्तार
X

नई दिल्ली। देश के कई हिस्सों में कोरोना के मामले बढ रहे हैं। ऐसे में विगत 24 घंटे के अंदर 13 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में रिकवरी से ज्यादा नए कोरोना मरीजों मिले हैं। इनमें भी 4 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर ने दस्तक दे दी है। जिनमें महाराष्ट्र, पंजाब, जम्मू कश्मीर और चंडीगढ़ शामिल हैं। महाराष्ट्र में पिछले 10 दिन, पंजाब में 12, चंडीगढ़ में 10 और जम्मू कश्मीर में 7 दिन से लगातार सक्रिय मामले बढ़ रहे हैं।

गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को वैक्सीनेशन और कोविड मैनेजमेंट से जुड़े आधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. हर्षवर्धन भी मौजूद रहे। इस दौरान शाह ने कोरोना के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए तत्काल उचित कार्य करने की हिदायत दी। देश में कोरोना के 91 जिलों में मरीज मिलने की रफ्तार बढ़ी है। इनमें 34 जिले महाराष्ट्र के ही हैं। इसके अलावा कर्नाटक के 16, हरियाणा, पंजाब, छत्तीसगढ़, गुजरात और बिहार के 4-4, जबकि केरल के दो जिले शामिल हैं। यहां बीते कुछ दिनों से रोजाना संक्रमितों की संख्या ठीक होने वाले मरीजों से ज्यादा है। देश में लगातार 5 दिनों तक एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद सोमवार के आंकड़ों ने कुछ राहत दी है। कुल मिलाकर नए मामलों से ज्यादा संख्या ठीक होने वालों की रही। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की माने तो, सोमवार को 10 हजार 493 लोग संक्रमित मिले, जबकि 13 हजार 230 लोग रिकवर हुए। 76 मरीजों की जान गई। वहीं अब तक 1.10 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं, इनमें 1.07 करोड़ लोग ठीक हो चुके हैं। 1 लाख 56 हजार 498 मरीजों ने अब तक जान गंवा दी। देश में वैक्सीनेशन ड्राइव भी तेज हो गई है। अब तक 1 करोड़ 14 लाख से ज्यादा हेल्थ केयर और फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इनमें 75 लाख 40 हजार 602 हेल्थ केयर वर्कर्स और 38 लाख 83 हजार 492 फ्रंट लाइन वर्कर्स शामिल हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि वैक्सीनेशन के बाद अब तक 46 लोगों को गंभीर साइड इफेक्ट्स की शिकायत के चलते अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। इनमें 26 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज किए जा चुके हैं और एक का इलाज चल रहा है। 19 लोग ऐसे भी रहे जिनकी मौत हो गई। हालांकि, इनकी मौत का कारण अलग-अलग रहा है।

महाराष्ट्र में शादी पार्टियों में नियमों का उल्लंघन होने पर दूल्हा-दुल्हन और उनके परिजनों पर एफआईआर दर्ज होगी। अब शादी की पार्टी में 50 लोग ही शामिल हो सकेंगे। उन्होंने आशंका व्यक्त की है कि कोरोना के वैरिएंट्स तेजी से केस बढ़ने की वजह हो सकते हैं। वहीं नागपुर में 7 मार्च तक सभी स्कूल, काॅलेज और कोचिंग इंस्टीट्यूट्स बंद रहेंगे। मेन मार्केट भी वीकेंड पर बंद रहेगा। होटल्स, रेस्टोरेंट्स को 50 प्रतिशत की क्षमता के साथ चलाने का आदेश दिया गया है। वहीं शादीघर 25 फरवरी के बाद से 7 मार्च तक बंद रखे जाएंगे।

कर्नाटक राज्य में मैरिज हाॅल में भीड़ पर नजर रखने के लिए मार्शल तैनात होंगे। मैरिज हाॅल में कोविड गाइडलाइन का पालन कराने के लिए यह निर्णय लिया गया है। राज्य में फेस्क मास्क अनिवार्य रहेगा और 500 से ज्यादा लोगों के जमावड़े पर प्रतिबंध रहेगा। पंजाब सरकार ने कोरोना वैक्सीन न लगवाने वाले हेल्थ केयर वर्कर्स को चेतावनी दी है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह संधु ने कहा, 'कई हेल्थ केयर वर्कर्स बार-बार मौका मिलने के बावजूद वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं। अगर उन्हें बाद में कोरोना होता है तो इसके लिए वह खुद जिम्मेदार होंगे।

Next Story