Top
undefined

मुकुल राॅय की टीएमसी में वापसी की खबरें तेज! सांसद ने कहा- दो हिस्सों में बटेंगे दल-बदलू

टीएमसी सांसद ने साफ कर दिया है, आखिरी फैसला ममता दी लेंगी, लेकिन मुझे लगता है कि दल बदलने वालों को दो हिस्सों साॅफ्टलाइनर और हार्डलाइनर में बांटा जाएगा।

मुकुल राॅय की टीएमसी में वापसी की खबरें तेज! सांसद ने कहा- दो हिस्सों में बटेंगे दल-बदलू
X

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में टीएमसी छोडने वाले भारतीय जनता पार्टी के विधायकों का तृणमूल कांग्रेस में वापसी का मुद्दा गरमा गया है। मुकुल राॅय की वापसी को लेकर चर्चाएं गर्म हंै। हालांकि टीएमसी और बीजेपी दोनों ही मुद्दे पर अभी कुछ भी कहने से बच रही हैं। राॅय ने भी अभी तक खुलकर कुद नहीं कहा है। टीएमसी सांसद सौगत राॅय ने बयान में बदलाव के संकेत दिए हैं।

यह भी बताया गया है कि कई लोग हैं और अभिषेक बनर्जी के साथ संपर्क में हैं और वापसी करना चाहते हैं। मुझे लगता है उन्होंने जरूरत के समय में पार्टी को धोखा दिया है। टीएमसी सांसद ने साफ कर दिया है, आखिरी फैसला ममता दी लेंगी, लेकिन मुझे लगता है कि दल बदलने वालों को दो हिस्सों साॅफ्टलाइनर और हार्डलाइनर में बांटा जाएगा। उन्होंने समझाया कि साॅफ्टलाइनर में वे नेता शामिल होंगे, जिन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कभी अपमान नहीं किया। जबकि, हार्डलाइनर्स ने सार्वजनिक रूप से उन्हें अपमानित किया है। राॅय ने कहा, श्दल बदलने के बाद शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी के बारे में काफी गलत कहा। मुकुल राॅय ने खुलकर मुख्यमंत्री के लिए कोई गलत बात नहीं की। कभी ममता बनर्जी के करीबी रहे राॅय पार्टी छोड़ने वाले पहले नेता थे। उन्होंने 2017 में दल बदल लिया था। रिपोर्ट के मुताबिक, इसके बाद के सालों में उन्होंने कई टीएमसी विधायकों और नेताओं को वफादारी बदलने पर राजी किया। खबर है कि करीब 35 नेता सत्ताधारी दल के साथ वापस आना चाहते हैं।

मुकुल राॅय की टीएमसी में वापसी की अटकलें तब से शुरू हो गई थीं, जब अभिषेक बनर्जी अस्पताल में भर्ती राॅय की पत्नी का हाल जानने पहुंचे थे। रिपोर्ट के अनुसार, ऐसा कहा जा रहा है कि अगले ही दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी खुद राॅय से फोन पर बातचीत की थी। बीजेपी नेताओं का कहना है कि इस राॅय की पत्नी के जल्दी स्वस्थ होने को लेकर यह काॅल किया गया था। जबकि, टीएमसी नेताओं का मानना है कि यह बीजेपी की नेताओं को एक साथ रखने की कोशिश है। हाल ही में कई बीजेपी नेताओं को दिल्ली बुलाया गया था। इन नेताओं में अधिकारी का नाम भी शामिल था। मंगलवार को अधिकारी ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। बाद में वे पीएम मोदी से भी मिले। बीजेपी की समीक्षा बैठक में मुकुल राॅय की गैर-मौजूदगी ने अधिकारी के साथ दरार की खबरों को मजबूती मिली है।

Next Story