Top
undefined

राहुल ने मोदी को बताया क्रोनी जीवी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बजट के बाद आरोप लगाया कि सरकार की योजना भारत की संपत्तियों को अपने पूंजीपति मित्रों को सौंपने की है। उन्होंने ट्वीट किया, श्श्सरकार लोगों के हाथों में पैसे देने के बारे में भूल गई। मोदी सरकार की योजना भारत की संपत्तियों को अपने पूंजीपति मित्रों को सौंपने की है।

राहुल ने मोदी को बताया क्रोनी जीवी
X

राहुल ने मोदी को बताया क्रोनी जीवी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से कुछ लोगों को आंदोलनजीवी और परजीवी बताए जाने के बाद सोशल मीडिया से लेकर विपक्ष तक ने तरह-तरह के जीवी तलाश रहे हैं। अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पब्लिक सेक्टर यूनिट्स और बैंकों में हिस्सेदारी बेचने को लेकर सरकार पर तंज कसते हुए इशारों में क्रोनी जीवी बताया है। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, क्रोनी-जीवी है जो, देश बेच रहा है वो।

क्रोनी-जीवी है जो

देश बेच रहा है वो।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के बजट में सरकरी कंपनियों में निजीकरण को बढ़ाने का ऐलान किया है। सरकारी कंपनियों, वित्तीय संस्थाओं, जिनमें दो पब्लिक सेक्टर बैंक्स भी शामिल हैं और एक इश्योरेंस कंपनी में हिस्सेदारी बेचने का ऐलान किया गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट पेश करते हए कहा था कि 2021-22 में 1.75 लाख करोड़ रुपये का विनिवेश लक्ष्य रखा गया है। राहुल गांधी अक्सर मोदी सरकार पर आरोप लगाते रहे हैं कि 2-3 उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाया जा रहा है। उनका कहना है कि पीएम अपने कुछ कारोबारी मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए निजीकरण को बढ़ावा दे रहे हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बजट के बाद आरोप लगाया कि सरकार की योजना भारत की संपत्तियों को अपने पूंजीपति मित्रों को सौंपने की है। उन्होंने ट्वीट किया, श्श्सरकार लोगों के हाथों में पैसे देने के बारे में भूल गई। मोदी सरकार की योजना भारत की संपत्तियों को अपने पूंजीपति मित्रों को सौंपने की है।

Next Story