Top
undefined

मंत्री कपिल देव ने निभाया वादा-शहीद प्रशांत के परिजनों को मिलेंगे 50 लाख, सरकारी नौकरी, नाम से बनेगी सड़क

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों से मुठभेड़ के दौरान तीन आतंकियों को अपनी गोलियों से छलनी कर देने वाले मुजफ्फरनगर जनपद के जांबाज सैन्य कर्मी प्रशांत शर्मा की शहादत को उत्तर प्रदेश के सरकार ने भी नमन किया है। मंत्री कपिल देव सरकार के प्रतिनिधि बनकर इस परिवार से मिले, सरकार से मदद का भरोसा दिलाया और इस मुलाकात के पांचवें घंटे में ही सीएम योगी ने 50 लाख देने की घोषण की।

मंत्री कपिल देव ने निभाया वादा-शहीद प्रशांत के परिजनों को मिलेंगे 50 लाख, सरकारी नौकरी, नाम से बनेगी सड़क
X

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश में सरकार का सरोकार जनता से किस हद तक है, यह आज उस समय साबित हुआ, जबकि अपने युवा बेटे को कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में खो देने का गम रखने वाले एक रिटायर्ड पिता के लिए योगी आदित्यनाथ की सरकार साथ खड़ी नजर आयी। सवेरे कश्मीर में जवान बेटे की शहादत की खबर से इस परिवार में कोहराम था, इनका दुख बांटने के लिए पीएम मोदी और सीएम योगी की सरकारों के मंत्रियों के साथ लोग भी पहुंचे थे। सीएम योगी की सरकार के प्रतिनिधि बनकर यहां पहुंचे मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने इस परिवार को ढांढस बंधाया, सांत्वना दी, सैन्य कर्मी प्रशांत शर्मा की शहादत को जिले के लिए गौरव बताया और बेटे के शहीद होने से टूटते एक पिता को पुत्र की भांति ही संभालते हुए यह वादा किया कि पूरी सरकार आपके साथ खड़ी है, जल्द ही परिवार को आर्थिक सहायता दिलायी जायेगी। इस आश्वासन के पांचवें घंटे में ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद प्रशांत के लिए ना केवल श्र(ांजलि व्यक्त की, बल्कि इस परिवार के लिए 50 लाख रुपये की सरकारी सहायता का ऐलान भी कर दिया। सीएम योगी के इस ऐलान की जनपद में सर्वत्र सराहना की जा रही है और इस के पीछे रहे मंत्री कपिल देव अग्रवाल के लिए यह परिवार दुखों के इस मोड़ पर कृतज्ञता प्रकट कर रहा है।


शुक्रवार की रात कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों के साथ भारतीय सैन्य जवानों की मुठभेड़ होती है। सैन्य जवान चार आतंकियों को ढेर कर देते हैं, इनमें से तीन आतंकियों को गोलियों भूनने के बाद मुजफ्फरनगर का लाल सेना नायक प्रशांत शर्मा शहीद हो गया। प्रशांत की शहादत की खबर शनिवार को सेना के अफसरों ने परिजनों को दी तो इस परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। इस शहादत की खबर मिलते ही, राज्य सरकार में व्यसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार कपिल देव अग्रवाल सवेरे करीब 11 बजे सबसे पहले बुढ़ाना मोड स्थित प्रशांत शर्मा के घर जा पहुंचे।


उनके पिता रिटायर्ड सेना नायक शीशपाल शर्मा से मिले, उनको ढांढस बंधाया, घर परिवार की स्थिति को लेकर जानकारी ली और आश्वासन दिया कि सरकार तुम्हारे साथ है, प्रशांत के बारे में सारी जानकारी एकत्र की और इस वादे के साथ वहां से रुख्सत हुए कि सरकार से मदद दिलाई जायेगी। मंत्री कपिल देव अग्रवाल के इस भरोसे पर शायद ही वहां पर किसी ने यकीन किया होगा कि सरकार से कोई मदद मिलेगी, लेकिन मंत्री कपिल देव की मुलाकात के मात्र पांच घंटे बाद करीब 4 बजे ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से शहीद सिपाही प्रशांत शर्मा के परिजनों को 50 लाख रुपये दिये जाने का ऐलान कर दिया गया। इसके साथ ही गांव में प्रशांत के नाम पर सड़क का निर्माण कराने का ऐलान भी सीएम योगी ने किया। इतना ही नहीं शहीद प्रशांत के परिवार से एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिलाने की घोषणा कराने में भी मंत्री कपिल देव अग्रवाल सफल रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस घोषणा की जानकारी मिलने पर शहीद प्रशांत के पिता शीशपाल और अन्य परिजन और भी भावुक हो गये। शीशपाल ने कहा कि वह विश्वास भी नहीं कर सकते हैं कि प्रशांत की शहादत के लिए राज्य सरकार इतनी संवेदनशील हो सकती है। उन्होंने कहा कि सवेरे ही मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने उनके घर आकर भरोसा दिया था कि सरकार मदद देगी, लेकिन वह यह नहीं सोच सकते थे कि प्रशांत के अंतिम संस्कार से पहले, उसका पार्थिव शरीर आने से पहले ही सरकार इस प्रकार से उसकी शहादत को सम्मान देने का काम करेगी। आज वह अपने बेटे की शहादत पर गौरव महसूस करते हैं। इस दौरान उनकी आंखों से लगातार आंसू बहते रहे। मंत्री कपिल देव अग्रवाल सवेरे 11 बजे जब प्रशांत के घर से रवाना हुए तो उनका ध्येय जल्द से जल्द इस परिवार को राज्य सरकार की ओर से मदद दिलाने ही रहा। उन्होंने सारी जानकारी लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की। डीएम सेल्वा कुमारी जे. को प्रशांत की शहादत को लेकर प्रशासिनक स्तर पर शासन को रिपोर्ट प्रेषित कराने के निर्देश दिये और पांचवें घंटे में घोषणा कराने तक वह अथक प्रयासों में जुटे रहे।


मंत्री कपिल देव अग्रवाल का इस संबंध में कहा है कि कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुआ प्रशांत शर्मा मां भारती का सपूत था। हम उसकी वीरता को नमन करते हैं। हमने मुख्यमंत्री योगी को प्रशांत की जाबांजी से अवगत कराया। सारी जानकारी एकत्र करते हुए परिवार को मदद दिलाने का आग्रह किया। मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आभारी हूं कि उनके द्वारा शहीद प्रशांत शर्मा के प्रति इतनी संवेदनशीलता दिखाई गई। आज इस परिवार को सरकार ने जो दिया है, वह इस परिवार के बेटे प्रशांत शर्मा की वीरता के आगे कुछ भी नहीं है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद प्रशांत को ऐसे किया नमन

मुजफ्फरनगर। कश्मीर में शहीद हुए सैन्यकर्मी प्रशांत शर्मा को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपना नमन उनके परिवार को कई बड़ी सुविधा और मदद के ऐलान के रूप में किया है। उन्होंने सीएम आॅफिस के ट्विटर हैंडल पर इस परिवार के लिए संदेश देश और प्रदेशवासियों से साझा किया।








मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने संदेश में कहा कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों से मुठभेड़ में शहीद हुए जनपद मुजफ्फरनगर निवासी सेना के जवान प्रशान्त शर्मा के शौर्य और वीरता को मैं नमन करते हुए उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने शहीद के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है, उन्होंने परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने तथा जनपद की एक सड़क का नामकरण शहीद के नाम पर करने की भी घोषणा की है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा है कि राष्ट्र की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीद प्रशांत शर्मा के सर्वोच्च बलिदान को सदैव याद रखा जाएगा। उन्होंने शहीद के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि शोक की इस घड़ी में राज्य सरकार उनके साथ है और उन्हें हर संभव मदद प्रदान की जाएगी।

Next Story