undefined

आतंकियों के साथियों पर नजर, वेस्ट यूपी में अलर्ट

एडीजी जोन मेरठ राजीव सभरवाल ने सभी जिलों के पुलिस अधिकारियों को सतर्क रहने के साथ ही सघन चेकिंग अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। खासकर दिल्ली से सटे यूपी के जिलोें नोएडा, गाजियाबाद, बागपत और मेरठ में विशेष सावधानी बरती जा रही है।

आतंकियों के साथियों पर नजर, वेस्ट यूपी में अलर्ट
X

मेरठ। हाल में व्यापक हिंसा की योजना बनाते पकड़े गए आतंकी माडयूल से मिली सूचनाओं के बाद पता चला है कि वेस्ट यूपी में उनके मददगार अब भी यूपी के विभिन्न शहरों में छिपे हुए हैं। इस जानकारी के बाद से खुफिया एजेंसियां और पुलिस को वेस्ट यूपी के जिलों में सतर्क रहने को कहा गया है। मेरठ जोन में अलर्ट के साथ ही सघन तलाशी का दौर जारी है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पाक संगठित आतंकी माडयूल को पकड़ा था। इसके अलावा उप्र के जिलों से भी कुछ लोगों की गिरफ्तारी हुई थी। पकड़े गए आतंकी माडयूल में दो ने पाक में जाकर प्रशिक्षण लिया था और ये लोग आगामी नवरात्र और त्योहार के मौके पर दिल्ली के अलावा मुंबई और यूपी में बड़े पैमाने पर आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की नापाक योजना बना रहे थे। इनकी गिरफ्तारी से मल्टी स्टेट ऑपरेशन में विस्फोटक व अन्य चीजें बरामद की गई हैं। इनके नाम जीशान, जान मोहम्मद अली, मोहम्मद अबू बकर, ओसामा, मोहम्मद आमीर जावेद और मूलचंद उर्फ लाला है। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि गत मंगलवार की सुबह कई राज्यों में एक साथ रेड करके इन सभी को गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए दहशतगर्दों से मिली जानकारी के बाद वेस्ट यूपी के मेरठ जोन में अलर्ट घोषित कर दिया गया है। एडीजी जोन मेरठ राजीव सभरवाल ने सभी जिलों के पुलिस अधिकारियों को सतर्क रहने के साथ ही सघन चेकिंग अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। खासकर दिल्ली से सटे यूपी के जिलोें नोएडा, गाजियाबाद, बागपत और मेरठ में विशेष सावधानी बरती जा रही है। बार्डर पर हर आने जाने वाले पर नजर रखी जा रही है। पकड़े गए तीन दहशतगर्द यूूपी के रहने वाले हैं। हालां कि इनको किस जिले से पकड़ा गया इसका खुलासा सुरक्षा के लिहाज से अभी नहीं किया गया है। बताया जा रहा है कि आतंकियों को फंडिंग पाक की खुफिया एजेंसी आइएसआइ और दाउद कर रहे थे। त्यौहारों और राष्ट्रीय दिवस के मौकों पर हमेशा दिल्ली और एनसीआर आतंकियों के निशाने पर रहती है।

Next Story