Top
undefined

दो साल से रची जा रही थी निकिता तोमर की हत्या की साजिश, 700 पन्नों की चार्जशीट कोर्ट में पेश

विशेष जांच दल (एसआईटी) ने शुक्रवार को फरीदाबाद कोर्ट में 700 पन्नों की चार्जशीट दाखिल करते इसे पूर्व नियोजित हत्याकांड बताते हुए कहा कि इस वारदात की साजिश पिछले दो साल से रची जा रही थी।

दो साल से रची जा रही थी निकिता तोमर की हत्या की साजिश, 700 पन्नों की चार्जशीट कोर्ट में पेश
X

फरीदाबाद। बल्लभगढ़ के चर्चित निकिता तोमर हत्याकांड में विशेष जांच दल (एसआईटी) ने शुक्रवार को फरीदाबाद कोर्ट में 700 पन्नों की चार्जशीट दाखिल करते इसे पूर्व नियोजित हत्याकांड बताते हुए कहा कि इस वारदात की साजिश पिछले दो साल से रची जा रही थी।

गत 26 अक्तूबर को परीक्षा देकर अपनी सहेली के साथ घर लौट रही छात्रा निकिता की बल्लभगढ़ में अग्रवाल कॉलेज के गेट के बाहर दिनदहाड़े मुख्य आरोपी तौसीफ ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस वारदात को अंजाम देने में उसका साथी रेहान भी शामिल था। दोनों आरोपी वारदात को अंजाम देकर कार से फरार हो गए थे। थाना बल्लभगढ़ में हत्या व आर्म्स एक्ट की धाराओं के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया था। मुख्य आरोपी तौसीफ को नूंह से गिरफ्तार किया था। दूसरे आरोपी रेहान को भी बाद में नूंह से गिरफ्तार किया गया। मात्र 11 दिन में एसआईटी द्वारा तैयार चार्जशीट में 60 गवाह हैं। चार्जशीट को डिजिटल, फोरेंसिक एवं मटेरियल एविडेंस के आधार पर अनुभवी अनुसंधान अधिकारियों द्वारा तैयार किया गया है। पुलिस प्रवक्ता ने कोर्ट को बताया कि सुरक्षा के लिए पुलिस आयुक्त द्वारा नितिका के भाई और मामा को आर्म्स लाइसेंस दिया गया इसके साथ ही परिवार के प्रत्येक सदस्य को गनमैन दिया गया है।

Next Story