Top
undefined

सेना द्वारा आईजी को अगवा किए जाने पर पाकिस्तान पुलिस में बगावत

मरियम नवाज के पति सफदर की गिरफ्तारी के लिए पाक सैनिकों ने सिंध पुलिस प्रमुख को अगवा करने के बाद उन पर इस बात का दबाव डाला गया कि वह सफदर की गिरफ्तारी के लिए एफआईआर दर्ज करे। मामले को लेकर पुलिसकर्मियों में आक्रोश है।

सेना द्वारा आईजी को अगवा किए जाने पर पाकिस्तान पुलिस में बगावत
X

कराची। नवाज शरीफ के दामाद सफदर अवान की गिरफ्तारी के मामले में सिंध प्रांत के आईजी मुश्ताक महर को अगवा करने के बाद उनके साथ सेना की बदसुलूकी के मामले को लेकर पुलिस में बगावत है। तमाम पुलिसकर्मियों ने छुट्टी के लिए आवेदन कर दिया।

पुलिस के अनुसार मरियम नवाज के पति सफदर की गिरफ्तारी के लिए पाक सैनिकों ने सिंध पुलिस प्रमुख को अगवा करने के बाद उन पर इस बात का दबाव डाला गया कि वह सफदर की गिरफ्तारी के लिए एफआईआर दर्ज करे। मामले को लेकर पुलिसकर्मियों में आक्रोश है। पुलिस में बगावती सुरों के बीच सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। बताया गया है कि कराची में पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) की रैली के बाद मरियम नवाज के पति सफदर अवान को उनके होटल के कमरे से गिरफ्तार किया गया था। मामले को लेकर नवाज शरीफ, मरियम और सिंध के पूर्व गवर्नर मुहम्मद जुबैर ने सेना पर आईजी को अगवा करने का आरोप लगाया था। मामले को लेकर बगावत के चलते तीन एडिशनल आईजी, 25 डीआईजी, 30 एसएसपी और दर्जनों एसपी, डीसीपी और एसएचओ समेत सभी पुलिसकर्मियों ने छुट्टियों के लिए आवेदन कर दिया। आईजी महर के साथ सुलूक को लेकर पुलिसकर्मियों में गुस्सा है। पुलिसकर्मियों का कहना है कि वे छुट्टी पर जा रहे हैं, लेकिन जरूरत पडी तो वे इस्तीफा भी दे देंगे। बाद में पीपीपी नेता बिलावल भुट्टो के अनुरोध पर आईजी महर ने पुलिसकर्मियों से राष्ट्रहित में जांच पूरी होने तक दस दिन के लिए आवेदन वापस लेने का अनुरोध किया है।

Next Story