Top
undefined

एमएलसी स्नातक सीट पर भी लहराया भगवा

मेरठ स्नातक सीट पर भाजपा के दिनेश गोयल प्रथम वरीयता में जीते, हेम सिंह पुंडीर को 27 हजार मतों से पराजित किया, पहली बार रचा गया इतिहास, मेरठ खंड की शिक्षक व स्नातक सीट पर भाजपा का कब्जा

एमएलसी स्नातक सीट पर भी लहराया भगवा
X

मेरठ। विधान परिषद् सदस्य के लिए मेरठ खंड शिक्षक सीट पर करीब पांच दशक का चक्रव्यूह भेदने के साथ ही भारतीय जनता पार्टी ने अब स्नातक सीट पर भी कब्जा करते हुए नया सियासी इतिहास रच डाला है। स्नातक सीट पर भाजपा प्रत्याशी डा. दिनेश कुमार गोयल विजयी हुए हैं। उन्होंने इस सीट पर माध्यमिक शिक्षक संघ का चला आ रहा वर्चस्व तोड़ते हुए बड़ी जीत दर्ज की है। उनकी जीत पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भाजपाईयों ने जमकर जश्न मनाया है। हालांकि उनकी जीत की औपचारिक घोषणा देर रात तक होने की संभावना है, क्योंकि अभी मेरठ खंड स्नातक सीट के लिए द्वितीय वरीयता के मतों की गिनती चल रही है।

मेरठ एमएलसी स्नातक के चुनाव में परतापुर स्थित कताई मिल में चल रही मतगणना में प्रथम वरीयता के मतों की गिनती का कार्य शनिवार सवेरे तक पूरा हुआ, जिसमें भाजपा प्रत्याशी दिनेश कुमार गोयल ने 43052 मत प्राप्त किए हैं। जबकि शिक्षक नेता हेमसिंह पुंडीर ने 15972 मत प्राप्त किए हैं। कुल 1,23,977 वोट पड़े थे। जिसमें कुल वैध मत 1,12,675 हैं। भाजपा प्रत्याशी ने पहली वरीयता के वोटों की गिनती के बाद 27080 मतों की बढ़त बनाई है। मेरठ खंड स्नातक सीट पर एमएलसी चुनाव में भी भाजपा ने बाजी मार ली है। अब द्वितीय वरीयता के मतों की गिनती चल रही है, जो औपचारिकता है। इससे पहले भाजपा मेरठ शिक्षक सीट जीत चुकी है। मेरठ खंड स्नातक सीट की प्रथम वरीयता के मतों की गिनती में भाजपा प्रत्याशी 27080 मतों से जीत चुके हैं। चुनाव आयोग के नियमों के तहत द्वितीय वरीयता के मतों की गिनती चल रही है जो देर शाम तक जारी रहेगी। प्रथम वरीयता के मतों की गिनती का काम पूर्ण होते ही भाजपाइयों में खुशी की लहर देखी जा रही है। एमएलसी स्नातक सीट के चुनाव की मतगणना में शनिवार दोपहर तक द्वितीय वरीयता की गिनती से 14 प्रत्याशी बाहर हो चुके हैं। कुल 30 प्रत्याशी हैं। जिसके बाद भाजपा प्रत्याशी दिनेश कुमार गोयल को 43191 मत मिले हैं जबकि उनके प्रतिद्वंदी हेम सिंह पुंडीर को 16019 मत मिले हैं। अभी तक के परिदृश्य में 27172 मतों से भाजपा प्रत्याशी दिनेश गोयल आगे चल रहे हैं। उधर, शनिवार सुबह ही कांग्रेस और सपा के शिविर उखड़ गए। केवल भाजपा प्रत्याशी दिनेश गोयल और निर्दलीय प्रत्याशी हरविंदर सिंह के शिविर ही मौजूद हैं।

आयोग द्वारा नियुक्त प्रेक्षक स्नातक समीर वर्मा सुबह 10 बजे मतगणना केंद्र पहुंचे। उनके साथ जिलाधिकारी मेरठ के बालाजी, जिलाधिकारी हापुड़ अदिति सिंह ,सीडीओ ईशा दुहन ,अपर जिलाधिकारी वित्त मेरठ सुभाष चंद्र प्रजापति सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। स्नातक सीट के प्रत्याशी हेम सिंह पुंडीर उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ शर्मा गुट के प्रांतीय उपाध्यक्ष हैं। साथ ही 4 बार से लगातार एमएलसी हैं। शिक्षक सीट पर चुनाव हारने वाले ओम प्रकाश शर्मा इसी दल के यानि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ शर्मा गुट के प्रांतीय अध्यक्ष हैं।

आगरा स्नातक सीट पर भाजपा की जीत, लखनऊ में बड़ा उलटफेर

लखनऊ। आगरा खंड स्नातक विधान परिषद सदस्य के चुनाव में भाजपा प्रत्याशी डा. मानवेंद्र प्रताप सिंह ने जीत दर्ज की है। शनिवार की सुबह भाजपा प्रत्याशी को विजेता घोषित किया गया। डा. मानवेंद्र प्रताप ने सपा के डा. असीम यादव को 5477 वोटों से हराया है। उधर, आगरा खंड शिक्षक सीट पर निर्दलीय डा. आकाश अग्रवाल ने जीत दर्ज की है। इसमें भाजपा प्रत्याशी दिनेश चंद्र वशिष्ठ को हार का सामना करना पड़ा है।

स्नातक निर्वाचन क्षेत्र की पांच सीटों के चुनाव में सपा ने भाजपा से इलाहाबाद-झांसी सीट छीन ली है। इस सीट पर सपा के डा. मान सिंह यादव ने चार बार से लगातार चुनाव जीत रहे भाजपा के डा. यज्ञदत्त शर्मा को हरा दिया। भाजपा उम्मीदवार डा. यज्ञदत्त शर्मा को 4333 मतों से हारे। डा. मान सिंह को 23093 वोट मिले जबकि डा. यज्ञदत्त शर्मा को 18760 मत मिले हैं। लखनऊ स्नातक क्षेत्र के चुनाव में निर्दलीय कांति सिंह और भाजपा के अवनीश सिंह में कड़ा मुकाबला चल रहा है। मतगणना के छठे चरण में बड़ा उलटफेर हुआ है। छठे राउंड की मतगणना के बाद भाजपा के अवनीश 513 वोटों से आगे हैं। छठे चक्र की मतगणना के बाद भाजपा को सबसे ज्यादा 5050 प्रथम वरीयता के वोट मिले हैं, जबकि कांति को 3786 वोट प्राप्त हुए हैं। वहीं, अभी तक भाजपा को कुल 24538 और कांति सिंह को 24025 वोट मिले हैं।

Next Story