Top
undefined

जब भड़के कमांडर अभिषेक-क्या वहलना चौकी पर ताला लग गया?

जाम को लेकर सेट पर बिफरे कप्तान अभिषेक यादव, पुलिस में मचा हड़कम्प, अवकाश पर गये चौकी प्रभारी को भी लगी फटकार, शहर में भी सतर्क हो गये चौराहे पर तैनात पुलिसकर्मी

जब भड़के कमांडर अभिषेक-क्या वहलना चौकी पर ताला लग गया?
X

मुजफ्फरनगर। सड़क पर जाम मुजफ्फरनगर की नियती बन चुका है। इस जाम की समस्या को लेकर भले ही हम एक नागरिक के तौर पर ज्यादा गंभीर नहीं हो, लेकिन जाम जैसी छोटी समस्याओं को भी जिले में तैनात अफसर किस हद तक संवेदनशीलता से लेते हैं यह आज दोपहर उस समय साबित हो गया, जबकि पुलिस कप्तान अभिषेक यादव को वहलना चौकी क्षेत्र में भयंकर जाम की शिकायत मिली। जाम को लेकर कमांडर अभिषेक यादव ने जब पुलिस व्यवस्था को परखा तो पुलिस की लापरवाही को देखकर कमांडर का पारा चढ़ गया और जब उनको पता चला कि चौकी प्रभारी भी अवकाश पर हैं और चौकी का स्टाफ जाम को लेकर निश्चित बना हुआ है तो उन्होंने सेट पर चिल्लाते हुए कहा कि वहलना चौकी पर ताला लग गया क्या? सड़क का 10 घंटे तक जाम रहेगी। कमांडर के तेवर का आभास होते ही पुलिस में हड़कम्प मच गया। सेट पर कमांडर के इन तेवरों ने ऐसा असर दिखाया कि वहलना चौराहे से शहर तक सभी स्थानों पर यातायात व्यवस्था में लगे पुलिसकर्मी पूरी तरह से सतर्क हो गये।

बात सोमवार की दोपहर करीब एक बजे की है, अचानक ही पुलिस के वायरलैस सेट पर कमांडर की आवाज गूंजती है, पहला सवाल होता है, वहलना पर जाम क्यों लगा हुआ है? इसके बाद कमांडर सवालों की बौछार कर देते हैं। सेट पर उनकी रौबिली आवाज गंूती है, वहां पर पुलिस कर्मी व्यवस्था बनाने में क्यों नहीं पहुंच रहे हैं। घंटों से जाम के बाद भी यातायात सुचारू क्यों नहीं किया गया है? कमांडर अभिषेक यादव के इन सवालों को लेकर सेट पर जवाब आता है कि कमांडर सर! मौके पर पीआरवी 2204 कार्य में जुटी हुई है। वहलना पर रोंग साइड का जाम है, कोई बड़ी समस्या नहीं है। इस पर कमांडर फिर दहाड़ते हैं कि रोंग साइड जाम है तो क्या यह जाम 10 घंटे तक लगा रहेगा, इस जाम को कोई खुलवायेगा भी या नहीं। कमांडर कहते हैं, पहले ही यह जाम घंटों से लगा हुआ है। इस पर ध्यान क्यों नहीं गया। कमांडर का सवाल फिर सेट पर गंूजता है, इस बार वह पूछ रहे थे कि वहलना चौकी इंचार्ज कहां हैं? इसके बाद वहलना चौकी इंचार्ज उप निरीक्षक देवकीनन्दन की तलाश शुरू हो जाती है। सेट पर ही कमांडर को बताया गया कि चौकी इंचार्ज आज अवकाश पर गये हुए हैं। यह सुनकर कमांडर अभिषेक का पारा और भी चढ़ जाता है, उन्होंने नाराजगी व्यक्त कर गुस्से में कहा कि क्या वहलना चौकी पर ही ताला लग गया है। इसके बाद चौकी इंचार्ज से बात कराने का हुकुम सुनाया जाता है। फोन पर पुलिस कर्मियों द्वारा चौकी इंचार्ज को कमांडर की नाराजगी के बारे में बता दिया जाता है। सेट पर कुछ देर में कमांडर को सूचना दी जाती है कि अभी चौकी इंचार्ज फोन पर कमांडर से बात कर रहे हैं। कमांडर के इन तल्ख तेवरों के कारण पुलिस विभाग में पूरी तरह से हड़कम्प मचा नजर आया।

दरअसल सोमवार को शहर कोतवाली क्षेत्र की पुलिस चौकी वहलना के क्षेत्र में बाईपास की ओर से भयंकर जाम लग गया था। कुछ लोगों के रोंग साइड से आ जाने के कारण यातायात व्यवस्था यहां पर ठप हो गयी थी। जाम लग जाने के बाद चौकी पर तैनात पुलिस कर्मी जाम खुलवाने में व्यस्त नहीं दिखाई दिये। लोगों की शिकायत के बाद पीआरवी 2204 ने मौके पर पहुंचकर जाम खुलवाने के प्रयास शुरू कर दिये थे। वहलना चौकी इंचार्ज देवकीनंदन ने भी कमांडर से फोन पर बात की और चौकी के स्टाफ को जाम खुलवाने में लगा दिया। पुलिस कर्मी सतर्क हुए तो कुछ ही देर में घंटों से लगा जाम खुल गया। एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि उनको वहलना में काफी देर से जाम लगे होने और वहां पर पुलिस कर्मियों के नदारद होने की सूचना मिली थी, इसको लेकर ही उन्होंने जाम खुलवाने के लिए दिशा निर्देश दिये थे। उन्होंने कहा बताया कि रोंग साइड लोगों के वाहन आ जाने के चलते वहां पर जाम लगा था, यातायात सुचारू बनाने में पुलिसकर्मियों को थोड़ा समय लग गया, थोड़ी ही देर में जाम खुलवा दिया गया था। अब यातायात सुचारू रूप से चल रहा है।

Next Story