Top
undefined

नीट और जेईई परीक्षा टालने को लेकर सियासी मोर्चे बंदी, छात्रों का कल से देशव्यापी धरना

राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा नीट और संयुक्त प्रवेश परीक्षा जेईई टलवाने के लिए सियासी पारा गर्म होने के साथ कांग्रेस समेत कई राजनीतिक दल मैदान में आ गए हैं।

नीट और जेईई परीक्षा टालने को लेकर सियासी मोर्चे बंदी, छात्रों का कल से देशव्यापी धरना
X

नई दिल्ली। राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा नीट और संयुक्त प्रवेश परीक्षा जेईई टलवाने के लिए सियासी पारा गर्म होने के साथ कांग्रेस समेत कई राजनीतिक दल मैदान में आ गए हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर परीक्षाओं के आयोजन की तैयारी के बाद देशभर के छात्रों ने इसके विरोध में गुरूवार कोे देशव्यापी धरने का ऐलान किया है। नीट -जेईई की परीक्षा 1-6 सितंबर तक होनी है।

राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा नीट और संयुक्त प्रवेश परीक्षा जेईई परीक्षा रुकवाने के लिए छात्रांे के एक वर्ग के लाम बंद होने के साथ ही कांग्रेस भी सियासी रोटियां सेंकने की तैयारी में है। छात्रों के इसे लेकर आंदोलन करने के ऐलान के बाद सरकार पर दबाव बनाने को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने आज विपक्षी पार्टियों की सीएम की बैठक बुलाई। ममता ने पीएम नरेंद्र मोदी से सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करने को कहा था। शीर्ष अदालत ने कोरोना महामारी के दौरान नीट और जेईई परीक्षा कराने का आदेश थे। एनडीए की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी भी कोरोना के चलते परीक्षा कराए जाने के खिलाफ है। मामला अदालत में था और सुप्रीम कोर्ट ने परीक्षा स्थगित करने वाली याचिका खारिज कर दी थी। कोर्ट ने कहा था कि कोरोना के कारण छात्रों का कीमती साल बर्बाद नहीं होने दे सकते हैं। बता दें कि ये दोनों परीक्षा 1-6 सितंबर के बीच होनी है।

Next Story