Top
undefined

गन्ना भुगतान के बाद भाकियू ने उठाया मुआवजा मुद्दा, हाईवे के लिए ऐसे मांगी रकम

गन्ना भुगतान के बाद भाकियू ने उठाया मुआवजा मुद्दा, हाईवे के लिए ऐसे मांगी रकम
X

मुजफ्फरनगर। भारतीय किसान यूनियन ने अब किसानों के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण हेतु ली गयी भूमि का मुआवजा बाजारी दर पर किये जाने की माग उठाई है। इसके लिए भाकियू नेताओं ने किसानों को एक समान मुआवजा नीति अपनाने की मांग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से करते हुए दो राष्ट्रीय राजमार्गों के भूमि अधिग्रहण पर मुआवजा मामलों को त्वरित नीत के साथ निस्तारित करने का आग्रह किया है।

उत्तर प्रदेश में पेराई सत्र 2019-20 के गन्ना मूल्य का बकाया भुगतान और भुगतान पर ब्याज दिये जाने की मांग को लेकर हाल ही में प्रदेशव्यापी आंदोलन करने के उपरांत अब भारतीय किसान यूनियन ने किसानों की भूमि अधिग्रहण के मसले को उठाया है। भारतीय किसान यूनियन की एक वेबीनार जूम एप पर राष्ट्रीय राजमार्ग 58 व पानीपत-खटीमा राजमार्ग के मुद्दे को लेकर सम्पन्न हुई, जिसमें एनएच-58 के किसानों को मुआवजे में हुई त्रुटि का लाभ दिए जाने, खतौली बाईपास पर बस स्टैण्ड का निर्माण, भैंसी से अपरोच रोड बनाये जाने, बचे हुए किसानों को मुआवजा दिये जाने आदि विषयों पर चर्चा हुई। राष्ट्रीय राजमार्ग-58 के परियोजना निदेशक ने बताया कि खतौली बाईपास का निर्माण कार्य जारी है। बचे हुए अवशेष कार्य जल्द से जल्द शुरू कराये जायेंगें। बस स्टैण्ड के लिए स्थल का चयन कर लिया गया है। जिनका निर्माण कार्य 15 दिन के अन्दर शुरू करा दिया जायेगा। पानीपत-खटीमा मार्ग पर किसानों को फसलों के नुकसान का मुआवजा दिये जाने, पीन्ना के किसानों को अकृषि भूमि के दर से मुआवजा दिये जाने, समसपुर को नसीरपुर के बराबर मुआवजा दिये जाने व अवार्ड में हुई त्रुटि को संशोधित किये जाने जैसे विषयों पर चर्चा हुई। इस सम्बन्ध में स्थलीय निरीक्षण के आधार पर रिपोट तैयार करने पर सहमति देते हुए समस्याओं के समाधान किये जाने का आश्वासन दिया गया।

बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित कुमार, वीके चतुर्वेदी परियोजना निदेशक राष्ट्रीय राजमार्ग-58, एसके मिश्रा परियोजना निदेशक पानीपत-खटीमा मार्ग, चौधरी राकेश टिकैत प्रवक्ता भारतीय किसान यूनियन, राजू अहलावत मण्डल महासचिव, धर्मेन्द मलिक मौजूद रहे।

Next Story