Top
undefined

चेयरमैन अंजू अग्रवाल के जुझारूपन से समस्या हुई हल

X

मुजफ्फरनगर। नगर पालिका परिषद मुजफ्फरनगर की अध्यक्ष अंजू अग्रवाल अपने जुझारूपन के लिए जनता के बीच पहचान बनाए हुए हैं पिछले करीब 10 दिनों से शहर के एक हिस्से में आ रहे गंदे पानी की समस्या को लेकर उन्होंने दिन-रात काम किया और खुद मौजूद रहकर पाइपलाइन को जड़ तक खुद वाया समस्या तक पहुंची और समाधान कराकर ही दम लिया आज उनकी इसी कर्मठता के कारण लोगों को दूषित पेयजल की समस्या से मुक्ति मिली है लोगों ने उनके कार्य की सराहना करते हुए प्रशंसा की और आभार भी जताया।



प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले लगभग 10 दिनों से रामपुरी एकता बिहार में हो रही गंदे पानी की समस्या को पालिका अध्यक्ष श्रीमती अंजू अग्रवाल के कुशल निर्देशन में नगरपालिका की टीम द्वारा कई दिनों से लगातार जेसीबी मशीन द्वारा खुदाई करा कर यह पता लगाया जा रहा था की नाले का पानी पानी की पाइप लाइन में कहां से प्रवेश कर रहा था काफी प्रयास करने के बाद वह पॉइंट के पास एकता विहार के कोने पर मिला संबंधित कर्मियों की टीम द्वारा समस्या का समाधान कर दिया गया है स्थानीय निवासियों द्वारा मौके पर पहुंची पालिका अध्यक्ष श्रीमती अंजू अग्रवाल के समक्ष अपनी खुशी का इजहार किया और पालिका अध्यक्ष के जिंदाबाद के नारे लगाए इस अवसर पर पालिकाध्यक्ष श्रीमती अंजू अग्रवाल स्थानीय सभासद श्रीमती कैलासो देवी के पुत्र अंकित कुमार अंकित कुमार कार्यालय अधीक्षक पूरन चंद पाल संबंधित ठेकेदार सुनील करण वाल स्थानीय निवासी सेवाराम शर्मा उमेश त्यागी नरेश धीमान स्टेनो अध्यक्ष गोपाल त्यागी एसके बिट्टू एवं अन्य स्थानीय लोग और पालिका के संबंधित कर्मचारी मौजूद रहे।

बता दें कि रुड़की रोड पर दीपक पैलेस वाली गली एकता विहार में लोगों की टंकियों में दूषित पानी आ रहा था जिसके चलते यहां पेयजल आपूर्ति का भी संकट बन गया लोगों को पीने के पानी की किल्लत हो रही थी इससे परेशान स्थानीय लोगों ने 15 अगस्त को टाउन हॉल पहुंचकर पालिका अध्यक्ष अंजू अग्रवाल के समक्ष उस समय रोष प्रकट किया था जब वह ध्वजारोहण करने के लिए वहां पर ध्वजारोहण करने के लिए पहुंची थी हालांकि उससे पहले से ही जलकल अवर अभियंता को पालिका अध्यक्ष ने पूरी टीम के साथ इस समस्या के निदान के लिए लगाया हुआ था लेकिन इसके बाद टीम को कार्य के प्रति संवेदनशील बनाने के लिए पालिका अध्यक्ष ने खुद भी मौके का निरीक्षण किया और आज भी वह बारिश के बीच में वहां मौजूद रही।

Next Story