Top
undefined

मुजफ्फरनगर में रात को निरीक्षण पर निकलीं डीएम सेल्वा

मुजफ्फरनगर में रात को निरीक्षण पर निकलीं डीएम सेल्वा
X

मुजफ्फरनगर। जनपद में अगस्त महीने में कोरोना संक्रमण ने कहर ढहा कर रख दिया है। जनपद में करीब 400 एक्टिव केस जिला प्रशासन का सिरदर्द बन गये है। कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की हर कोशिश नाकाम साबित हो रही है। ऐसे में इस संकट को कम करने के लिए जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. लगातार काम कर रही है। उन्होंने देर रात कोविड कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया तो अफसरों में हड़कम्प मच गया। अचानक कंट्रोल रूम पहुंची डीएम ने यहां पर अफसरों को संक्रमण की रोकथाम के लिए कंटेनमेंट जोन में बेहद सतर्कता बरतने के निर्देश दिये।



बता दें कि शनिवार को जनपद में सर्वाधिक 56 कोरोना पाजिटिव केस सामने आये थे। इसके साथ ही जनपद में 393 एक्टिव केस हो गये। इन कोरोना पाजिटिव मरीजों का उपचार बेगराजपुर मेडिकल काॅलेज में बने कोविड हाॅस्पिटल में किया जा रहा है। जनपद में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को लेकर जिलाधिकारी बेहद गंभीर नजर आ रही हैं। उनकी गंभीरता को इसी बात से देखा जा सकता है कि शनिवार की रात्रि में वह 9.15 बजे अचानक ही कलेक्ट्रेट स्थित कंट्रोल रूम का निरीक्षण करने पहुंच गयी। इस निरीक्षण से अफसरों में भी हलचल मच गयी। इस दौरान जिलाधिकारी ने कोविड टेस्टिंग, एम्बुलेंस की स्थिति, कंटेनमेंट जोन और सेनिटाइजेशन पर विस्तार से चर्चा करते हुए अफसरों को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कंट्रोल रूम में प्राप्त हो रही शिकायतों के निस्तारण की व्यवस्था को भी परखा। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. प्रवीण चोपड़ा, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व आलोक कुमार, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह, एसडीएम अजय अम्बष्ट उपस्थित रहे।

इसके साथ ही दिल्ली में पकड़े गये आतंकी और पंजाब में घुसपैठियों के साथ हुई मुठभेड़ के बाद अलर्ट हो जाने पर जिले में पुलिस फोर्स भी सतर्क नजर आया। एसपी सिटी सतपाल अंतिल के आदेश के बाद शनिवार को आधी रात तक शहर में सुरक्षा के दृष्टिगत व डाॅग स्क्वायड के साथ एलआईयू एवं पुलिस टीम ने नगर के मुख्य बाजारों, मन्दिरों, रेलवे स्टेशन एवं बस स्टैण्ड पर की सघन चौकिंग करते हुए संदिग्ध लोगों से भी पूछताछ की। इस दौरान लाॅक डाउन के बाद भी देर रात्रि तक शहर की सड़कों पर आने जाने वाले लोगो एवं रेलवे स्टेशन तथा रोडवेज बस स्टेशन पर मिले लोगो से की बातचीत करते हुए पुलिस अफसरों ने रात्रि में उनके आवागमन का कारण जाना और उनको सख्त हिदायत दी। कुछ संदिग्ध लोगों की पुलिस अफसरों ने तलाशी भी ली।

Next Story