Top
undefined

पुडुचेरी में कांग्रेस की सरकार गिरी

मुख्यमंत्री नारायणसामी ने पूर्व उपराज्यपाल किरण बेदी और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि दोनों ने मिलकर सरकार को गिराने की कोशिश की। मालूम हो कि पिछले डेढ़ महीने में सरकार के छह विधायक अपने पद से इस्तीफा दे चुके थे, जिसमें से दो ने रविवार को दिया। वहीं, पिछले साल कांग्रेस के एक विधायक को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया था।

पुडुचेरी में कांग्रेस की सरकार गिरी
X

नई दिल्ली। पुडुचेरी विधानसभा में कांगे्रस नीत सरकार बहुमत साबित नहीं कर पाई। इस वजह से सोमवार को सरकार गिर गई। विधानसभा के स्पीकर ने ऐलान किया कि नारायणसामी की सरकार ने बहुमत खो दिया है। फ्लोर टेस्ट के दौरान मुख्यमंत्री ने अपने समर्थक विधायकों के साथ विधानसभा से वॉकआउट कर दिया। माना जा रहा है कि अब वे उप राज्यपाल से मुलाकात करेंगे, जहां उन्हें इस्तीफा सौंप देंगे।

इससे पहले, विधानसभा में बोलते हुए मुख्यमंत्री नारायणसामी ने पूर्व उपराज्यपाल किरण बेदी और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि दोनों ने मिलकर सरकार को गिराने की कोशिश की। मालूम हो कि पिछले डेढ़ महीने में सरकार के छह विधायक अपने पद से इस्तीफा दे चुके थे, जिसमें से दो ने रविवार को दिया। वहीं, पिछले साल कांग्रेस के एक विधायक को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया था। इस तरह सरकार से सात विधायक दूर हो चुके थे, जिसके बाद सरकार अल्पमत में आ गई थी। पुडुचेरी के मुख्यमंत्री नारायणसामी ने समर्थक विधायकों के साथ विधानसभा से वॉकआउट कर दिया। रिपोर्ट्स के अनुसार, उपराज्यपाल से मुलाकात करके सीएम त्यागपत्र देंगे। बाद में पुडुचेरी विधानसभा के स्पीकर ने बताया कि कांग्रेस की गठबंधन वाली सरकार ने बहुमत खो दिया है।

पुडुचेरी के मुख्यमंत्री नारायणसामी ने विधानसभा में कहा कि हमने डीएमके और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार बनाई। उसके बाद, हमने विभिन्न चुनावों का सामना किया। हमने सभी उप-चुनाव जीते हैं। यह स्पष्ट है कि पुडुचेरी के लोग हम पर भरोसा करते हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व एलजी किरण बेदी और केंद्र सरकार ने विपक्ष के साथ मिलकर सरकार को गिराने की कोशिश की। केंद्र ने फंड न देकर पुडुचेरी के लोगों के साथ विश्वासघात किया है।

Next Story