Top
undefined

गुरमीत राम रहीम को कैंसर होने की आशंका

डाॅक्टरों ने उसके स्वास्थ्य की जांच की, जिसमें सामने आया कि राम रहीम के पैंक्रियाज में गांठ है और शुगर अनियंत्रित होने से उसे पेट दर्द की समस्याएं हो रही हैं। बताया जा रहा है कि, 3 जून को एंजियोग्राफी, सीटी स्कैन व फाइब्रोस्कैन जांच हुई थी।

गुरमीत राम रहीम को कैंसर होने की आशंका
X

रोहतक। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को कैंसर होने की आशंका जताई जा रही हैं। पिछले कई दिनों से राम रहीम गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में भर्ती था, जहां से गुरुवार को डिस्चार्ज कर दिया गया। उसके बाद उसे शाम करीब साढ़े 6 बजे सुनारिया जेल लाकर एक वार्ड में रखा गया है। डाॅक्टरों ने उसके स्वास्थ्य की जांच की, जिसमें सामने आया कि राम रहीम के पैंक्रियाज में गांठ है और शुगर अनियंत्रित होने से उसे पेट दर्द की समस्याएं हो रही हैं। बताया जा रहा है कि, 3 जून को एंजियोग्राफी, सीटी स्कैन व फाइब्रोस्कैन जांच हुई थी।

राम रहीम के पैंक्रियाज में गांठ मिलने पर डाॅक्टरों ने कैंसर का शक जताया है। राम रहीम की ओर से पेट दर्द होने की शिकायतें कई बार पहले भी की जा चुकी हैं। उसकी हालात बिगड़ने के पीछे की वजह पैंक्रियाज में गांठ बताई जा रही है। इससे पहले 7 जून को ऐसी खबरें आई थीं कि उसकी जांच रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव है। उसे गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल लाया गया था। हालांकि, बाद में गुरुग्राम के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डाॅ वीरेंद्र यादव ने बताया कि, राम रहीम ठीक है और उसकी जांच रिपोर्ट कोरोना निगेटिव आई है।

वहीं, गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में हनीप्रीत को राम रहीम का अटेंडेंट बनाने का मामला अब पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट पहुंच गया है। अंशुल छत्रपति ने चीफ जस्टिस को पत्र लिख इलाज का सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध कराने की मांग की है। बता दें कि, 6 जून के दिन जब राम रहीम मेदांता अस्पताल ले जाया गया था, तो उसकी अगली भी राम रहीम को देखने मेदांता अस्पताल के लिए निकली थी। राम रहीम को बीते रविवार के दिन भारी पुलिस-सुरक्षा के बीच गुरुग्राम लाया गया था, जहां उसे कोविड वार्ड में रखा गया। तब, खबरें आईं कि हनीप्रीत ने अटेंडेंट कार्ड बनवा लिया है और वह राम रहीम के पास ही रही।

Next Story