Top
undefined

विपक्ष के हंगामे के बाद लोकसभा और राज्यसभा की कार्रवाई स्थगित

कांग्रेस के सांसदों ने तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए बृहस्पतिवार को पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में संसद भवन परिसर में प्रदर्शन किया। संसद भवन में परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष आयोजित इस प्रदर्शन में कांग्रेस के दोनों सदनों के कई सदस्यों ने हिस्सा लिया।

विपक्ष के हंगामे के बाद लोकसभा और राज्यसभा की कार्रवाई स्थगित
X

नई दिल्ली। पेगासस और किसानों के मुद्दे पर हंगामे के बाद लोकसभा और राज्यसभा की कार्रवाई स्थगित कर दी गई। दूसरी ओर पंजाब कांग्रेस के सांसदों ने तीन कृषि कानूनों को लेकर संसद परिसर में गांधी प्रतिमा के सामने धरना दिया।

आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने लोकसभा में कृषि से जुड़े तीन नए कानूनों को वापस लेने के लिए स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है। मनीष तिवारी पेगासस पर चर्चा के लिए दिया स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है। राज्यसभा में कोरोना वायरस पर चर्चा जरूर हुई। इस चर्चा में केंद्र सरकार के बयान आक्सीजन की कमी से एक भी मौत न होने पर जमकर हंगामा हुआ। हालांकि, अधिकतर राज्यों ने कहा है कि उनके यहां आक्सीजन की कमी से किसी की जान नहीं गई। राज्यसभा में नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि कोई स्पष्टीकरण केवल तभी मांग सकता है जब बयान दिया गया हो और सरकार ऐसा ही कर रही हो। सभी सदस्य बोल नहीं पाएंगे। यह लोगों को कुचलने और खुद को बचाने और अन्य सदस्यों को (पेगासस मुद्दे पर) बोलने की अनुमति नहीं देने का प्रयास है। अलग-अलग मुद्दों पर विभिन्न दलों के सदस्यों के हंगामे के कारण बृहस्पतिवार को राज्यसभा की बैठक शुरू होने के कुछ ही देर बाद दोपहर बारह बजे तक के लिए स्थगित।

वाईएसआरसीपी नेआंध्र प्रदेश को विशेष श्रेणी का दर्जा देने का आश्वासन लागू करने की मांग की। टीएमसी ने पेगासस स्पाइवेयर द्वारा कथित फोन निगरानी के संबंध में और सपा ने किसान आंदोलन पर चर्चा की मांग के संबंध में नोटिस दिया है। इलेक्ट्रानिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव आज यानी गुरुवार दोपहर को 2 बजे से राज्यसभा में बोलेंगे। उम्मीद की जा रही है कि इस दौरान वे पेगासस जासूसी मुद्दे पर भी बोलेंगे।

कांग्रेस के सांसदों ने तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए बृहस्पतिवार को पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में संसद भवन परिसर में प्रदर्शन किया। संसद भवन में परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष आयोजित इस प्रदर्शन में कांग्रेस के दोनों सदनों के कई सदस्यों ने हिस्सा लिया। राहुल गांधी के अलावा लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, लोकसभा सदस्य मनीष तिवारी, गौरव गोगोई, रवनीत बिट्टू, राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा और कई अन्य सांसद इस धरने में शामिल हुए। कांग्रेस सांसदों ने 'काले कानून वापस लो' और 'प्रधानमंत्री न्याय करो' के नारे लगाए।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आवश्यक रक्षा सेवाओं के रखरखाव के लिए आवश्यक रक्षा सेवा विधेयक, 2021 पेश करेंगे ताकि राष्ट्र की सुरक्षा और आम जनता के जीवन और संपत्ति को सुरक्षित किया जा सके और इससे जुड़े या प्रासंगिक मामलों के लिए। आज पीएम नरेंद्र मोदी ने राजनाथ सिंह और अमित शाह समेत शीर्ष मंत्रियों के साथ बैठक की। बैठक में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, निर्मला सीतारमण, नरेंद्र सिंह तोमर और प्रह्लाद जोशी भी शामिल रहे।

Next Story