Top
undefined

युवा जोशः ऑस्ट्रेलिया को पटखनी दे 2-1 से जीती टेस्ट सीरीज

भारत की असली मानसिकता की झलक कप्तान अजिंक्य रहाणे की बैटिंग में मिली जिन्होंने 22 गेंदों पर ही 24 रनों की छोटी लेकिन तेज पारी खेलकर बता दिया कि टीम जीत की ओर जा रही है।

युवा जोशः ऑस्ट्रेलिया को पटखनी दे 2-1 से जीती टेस्ट सीरीज
X

नई दिल्ली। युवा जोश ने गाबा टेस्ट मैच को जीतकर इतिहास रच दिया है। भारत ने टेस्ट सीरीज भी 2-1 से अपने नाम कर ली है। भारत ने एडिलेड टेस्ट बुरी तरह हारने के बाद बाॅर्डर-गावस्कर ट्राफी पर अपना कब्जा बरकरार रखा है।

चोटिल दिग्गजों की कमी के बावजूद रहाणे की कमान में पहले मेलबर्न फतेह हुई और फिर सिडनी में जीत की स्तर का ड्रा हुआ और अब इतिहास बनाया गया गाबा में जहां ऑस्ट्रेलिया की टीम अमूमन टेस्ट मैच नहीं हारती है। 32 साल से कंगारू टीम गाबा में नहीं हारी थी। यह भारत की ऑस्ट्रेलियाई धरती पर लगातार दूसरी टेस्ट सीरीज जीत है। इससे पहले भारत ने 2018-19 में चार मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से ही जीती थी। भारत ने ऑस्ट्रेलिया के गढ़ गाबा में पांचवे दिन 328 रनों का पीछा 97 ओवरों में 7 विकेट से कर लिया। इस दौरान मैन आॅफ द मैच ऋषभ पंत ने अंतिम ओवरों में अपनी आक्रामकता का जो मुजायरा किया उसके बाद वह जीत दिलाकर ही रुके। पंत ने 138 गेंदों पर 89 रनों की नाबाद पारी खेली। पंत का साथ वाशिंगटन सुंदर ने बखूबी निभाया जिन्होंने 29 गेंदों पर 22 रन बनाए। सुंदर के आउट होने के बाद शार्दुल ठाकुर 2 रनों के स्कोर पर हवा में शाॅट खेलते हुए लपके गए। इसके बाद पंत ने कोई गलती नहीं की और चैका लगाकर अपनी टीम को इतिहास बनाने तक पहुंचाया।

इससे पहले टीम की जीत की आधारशिला रखने में शुभमन गिल और चेतेश्वर पुजारा के अर्धशतक रहे। दोनों ने अलग तरह की पारियां खेली। गिल ने 146 गेंदों पर 91 रनों की तेज पारी खेली और पुजारा ने 211 गेंदों पर 56 रन बनाकर एक छोर पर खूंटा गाड़े रखा। भारत की असली मानसिकता की झलक कप्तान अजिंक्य रहाणे की बैटिंग में मिली जिन्होंने 22 गेंदों पर ही 24 रनों की छोटी लेकिन तेज पारी खेलकर बता दिया कि टीम जीत की ओर जा रही है।

भारत ने आॅस्ट्रेलिया को पहली पारी में 369 और दूसरी पारी में 294 रनों पर समेट दिया था। मोहम्मद सिराज ने दूसरी पारी में 5 विकेट लेकर खूब वाहवारी बटोरी। जबकि भारत ने शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर के अर्धशतकों के दम पर पहली पारी में 336 रन बनाए थे। शार्दुल ठाकुर ने दोनों पारियों में कुल मिलाकर 7 विकेट लिए।

Next Story