Top
undefined

बलिया में स्वास्थ्य कर्मियों ने पीएम मातृ वंदना योजना में किया लाखों का घोटाला

बलिया में स्वास्थ्य कर्मियों ने पीएम मातृ वंदना योजना में किया लाखों का घोटाला
X

योगी सरकार में एक से बढ़कर एक नए-नए घोटाले सामने आ रहे हैं। सरकार की सख्ती का घोटालेबाजों पर जरा भी असर नहीं हो रहा है। ना उन्हें कानून का भय है और नाही सरकार की साख की चिंता। घोटालों को लेकर बलिया एक बार फिर सुर्खियों में है। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में बड़ा फर्जीवाड़ा हुआ है।

विभागीय कर्मचारियों ने आशा बहुओं के साथ मिलकर घोटाले को अंजाम दिया है। बलिया के नगरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में घोटाले बाजों ने अपात्र महिलाओं को बड़ी संख्या में पात्र दिखाकर लाखों का गबन किया गया है। फिलहाल 77 अपात्र महिलाओं को पात्र दिखाकर लूट करने का मामला खुला है। अन्य प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी फर्जीवाड़ा से इनकार नहीं किया जा सकता।

आपको बता दें प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत सरकार गर्भवती महिलाओं 6 हजार रुपये की राशि देती है। इसी योजना को लेकर बलिया के नगरा पीएचसी में घोटाला हुआ है। यहां आशा बहुओं और विभागीय कर्मचारियों ने आपस में मिलकर दर्जनों अपात्र महिलाओं का नाम दिखाकर प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना योजना में लाखों का फर्जीवाड़ा किया है। हैरत की बात यह है की लाभ पाने वाली महिलाओं में कई 60-65 वर्ष से अधिक की आयु की भी बताई जा रही हैं।

घोटाले का खुलासा होने के बाद बलिया में हड़कंप मचा हुआ है, घोटालेबाज कर्मचारी अपनी गर्दन बचाने के लिए लीपापोती में जुट गए हैं। इस योजना से जुड़ी नगरा पीएससी में काम देखने वाली रीता देवी के अनुसार योजना के नियमों की अनदेखी करके कंप्यूटर ऑपरेटर को फार्म सीधे जमा किए जा रहे हैं। जबकि नियमानुसार फार्म रीता देवी को मिलने चाहिए थे।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नगरा के प्रभारी डॉ एस के गुप्ता का कहना है कि आरोपी बताया जा रहे कंप्यूटर ऑपरेटर को बुलाकर घोटाले के संबंध में पूछताछ की थी और उससे योजना के फार्म इत्यादि मांगे थे। उन्होंने यह भी बताया कि कंप्यूटर ऑपरेटर ने उन्हें अभी योजना से संबंधित कागजात वगैरह मुहैया नहीं कराए हैं। डॉ एसके गुप्ता ने कहा की घटना के बारे में उन्होंने सीएमओ को अवगत करा दिया है। जिसकी सूचना उन्होंने अपने उच्च अधिकारियों को दे दिया है।

वहीं सीएमओ डॉ. जितेंद्र पाल ने बताया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नगरा में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत लाखों का घोटाला होने की बात सामने आई है। सीएमओ ने बताया मैंने तीन सदस्यीय जांच समिति गठित करके उन्हें मामले की जांच सौंप दी है। सीएमओ ने यह भी कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नगरा के साथ ही जनपद में संचालित हो रहे हैं दूसरे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों की भी जांच करा के प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में घोटाले का पता लगाया जाएगा, यदि इस मामले में सच्चाई सामने आती है कि घोटाला हुआ है तो घोटालों में लिप्त कर्मचारियों के विरुद्ध कठोर से कठोर कार्रवाई होगी।

Next Story