Top
undefined

संत कबीर नगर : पुलिस ने 5 परिवार टूटने से बचाये, मतभेद दूर, पति-पत्नी दोबारा साथ रहने को राज़ी

संत कबीर नगर : पुलिस ने 5 परिवार टूटने से बचाये, मतभेद दूर, पति-पत्नी दोबारा साथ रहने को राज़ी
X

विवाह जन्म जन्मांतर का संबंध होता है। कुछ परिवारों में छोटे मतभेद के चलते वैवाहिक संबंधों में दरार पड़ जाती है, पति-पत्नी के बीच मनमुटाव हो जाता है। ऐसी दशा में सर्वाधिक नुकसान बच्चों का होता है, उनका भविष्य प्रभावित होता है। संत कबीर नगर पुलिस पति- पत्नी के बीच विवाद को खत्म करके उनको मिलाने का सराहनीय कार्य कर रही है।

उल्लेखनीय है पुलिस अधीक्षक संतकबीरनगर बृजेश सिंह के निजी प्रयास से जनपद में साथ-साथ कार्यक्रम चलाया जा रहा है। यह कार्यक्रम टूटते परिवार को जोड़ने की एक पहल है जिसके सार्थक परिणाम सामने आ रहे हैं। इसके तहत आज 5 जोड़ों को समझा-बुझाकर फिर से एक साथ रहने के लिए राजी किया गया। ज्ञातव्य हो महिला थाना स्थित परिवार परामर्श केंद्र की प्रभारी निरीक्षक महिला थाना डॉ शालिनी सिंह व नियुक्त सदस्य रिफात उल्लाह अंसारी की अध्यक्षता में कुल 5 मामलों का निस्तारण हुआ।

सभी मामलों में पति-पत्नी को समझा-बुझाकर समझौता कराया गया। पहला मामला शालिनी चौधरी पत्नी संजय चौधरी निवासी ग्राम छपिया थाना दुधारा का था। पति संजय चौधरी से मतभेद के चलते अलगाव की स्थिति आ गई थी पुलिस ने दोनों पक्ष में सुलह समझौता कराया। दोनों पक्ष साथ रहने के लिए राजी हो गए। दूसरा प्रकरण मोहनी पत्नी अमरजीत निवासी ग्राम गढ़वा थाना खलीलाबाद जनपद संत कबीर नगर का था।

पति-पत्नी के विवाद में सुलह समझौता कराया गया। तीसरा प्रकरण महशर जहां का था इनका अपने पति अहमद हुसैन निवासी देवरी थाना खेजरा जनपद सिद्धार्थनगर से कुछ विवाद था। पति पत्नी के बीच विवाद खत्म करके दोनों का सुलह समझौता कराया गया। दोनों पक्ष साथ रहने के लिए राजी हो गए। चौथा मामला चांदनी साहनी पत्नी कुलदीप साहनी निवासी धौरापार थाना मेहदावल जनपद संत कबीर नगर का था। इसमें दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर समझौता कराया गया। पांचवां मामला कैसर जहां पुत्री नियामत अली, निवासी मुरादपुर थाना दुधारा जनपद संत कबीर नगर का सामने आया। पति पत्नी के बीच विवाद खत्म करा कर सुलह समझौता कराया गया। पति-पत्नी थाने से हंसी खुशी विदा हुए।

Next Story