Top
undefined

12 लाख रुपये हड़पने और शादीशुदा प्रेमिका से शादी के चक्कर में रची खुद के अपहरण की साज़िश, गिरफ्तार

12 लाख रुपये हड़पने और शादीशुदा प्रेमिका से शादी के चक्कर में रची खुद के अपहरण की साज़िश, गिरफ्तार
X

प्यार में चांद तारे तोड़कर लाने का वादा आपने खूब सुना होगा लेकिन यूपी के मैनपुरी में प्यार में अंधे एक युवक ने ऐसी हरकत कर डाली जो चर्चा का विषय बनी हुई है। मामला यूपी के मैनपुरी जिले का है जहां एक 32 साल के शादीशुदा व्यक्ति ने, उधार लिए 12 लाख रुपए ना चुकाने पड़े इसलिए अपने ही अपहरण की साजिश रच डाली।

युवक की योजना यह थी कि वह लेनदारों के 12 लाख रुपये चुकाए बिना भागकर अपनी प्रेमिका के साथ नया जीवन शुरू कर सके। हालांकि प्रेमी की योजना परवान चढ़ने से पहले पुलिस ने उसे राजस्थान के भिवाड़ी से गिरफ्तार कर लिया। प्रेमी के अलावा पुलिस ने उसके भाई, एक दोस्त और एक ड्राइवर को भी गिरफ्तार किया है। इन पर आरोप है कि उन्होंने प्रेमी की साजिश में उसका सहयोग किया था। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मैनपुरी जिले के बरनाहल का रहने वाला सुलेमान अल्वी बिल्डिंग मैटीरियल का व्यवसाय करता है।

शादीशुदा सुलेमान दो बच्चों का पिता है। शादीशुदा सुलेमान का शादीशुदा और दो बच्चों की मां से चक्कर चल रहा था। पुलिस के सूत्रों ने बताया कि सुलेमान भागकर इसी महिला से शादी करने वाला था। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक सुलेमान अल्वी के भाई सद्दाम हुसैन ने 21 सितंबर को मैनपुरी के दन्नाहार पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई। रिपोर्ट में सद्दाम हुसैन ने बताया कि सुलेमान जब घर लौट रहा था रास्ते में चार अज्ञात हमलावरों ने उसका अपहरण कर लिया। पुलिस ने शिकायती पत्र के आधार पर इस मामले में आईपीसी की धारा 364 के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी। अपहरण के मामले में शुरुआती जांच में पुलिस को पता चला कि सद्दाम ने सुलेमान के अपहरण की जो कहानी बताई है, वह तथ्यों से मेल नहीं खाती। पुलिस को जांच में यह भी पता चला कि सद्दाम अपने भाई की योजनाओं के बारे में जानता था और उसने गुमराह करने के लिए एक फर्जी शिकायत भर दी थी।

सुराग मिलने के बाद एक्शन में आई पुलिस ने सुलेमान की मदद करने वाले ड्राइवर इमरान और एक दोस्त जाहिद को गिरफ्तार किया तब सच्चाई खुलकर सामने आई। दरअसल अपहरण का केस होने के चलते पुलिस पूरी मुस्तैदी से मामले की छानबीन कर रही थी। छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि सुलेमान भिवाड़ी, राजस्थान में एक महिला के साथ रह रहा है। जांच टीम में शामिल पुलिसकर्मियों ने इसके बाद सुलेमान को वहां से दबोच लिया। पुलिस की पूछताछ में सुलेमान ने बताया कि वह पिछले आठ साल से महिला से प्रेम कर रहा है। महिला के साथ जीवन गुजारने के लिए उसने अपने अपहरण की योजना बनाई। सुलेमान ने 12 लाख रुपए उधार लिए थे जिसे वह वापस नहीं कर पा रहा था इसलिए उन्होंने सब कुछ छोड़कर एक नया जीवन शुरू करने का फैसला किया। छानबीन के मुताबिक, सुलेमान ने महिला के साथ भागकर नेपाल जाने की प्लानिंग बनाई थी। नेपाल जाकर अपनी प्रेमिका के साथ जीवन की दूसरी पारी शुरू करने का इरादा सुलेमान ने बनाया था। पुलिस को छानबीन में पता चला कि सुलेमान ने अपने ड्राइवर और भाई से कहा था कि पुलिस के सामने उसके अपहरण की झूठी कहानी पेश करे। अपहरण की झूठी कहानी का पर्दाफाश करने और पुलिस के गुड वर्क से प्रसन्न होकर आगरा रेंज के आईजी ए सतीश गणेश ने पुलिस टीम को 40,000 रुपये का इनाम दिया है।

Next Story