Top
undefined

लखनऊ पुलिस की साइबर सेल में फूटा कोरोना बम, दो उप निरीक्षक और 5 आरक्षी मिले कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ पुलिस की साइबर सेल में फूटा कोरोना बम, दो उप निरीक्षक और 5 आरक्षी मिले कोरोना पॉजिटिव
X

लखनऊ। जैसे-जैसे सरकार लॉकडाउन के दरमियान लगे प्रतिबंध एक-एक करके हटा रही हैं उसी स्पीड में कोरोना के नए केसों में वृद्धि भी हो रही है। विगत दिनों किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के प्रशासन विभाग में कोरोना ने एक साथ कई अधिकारियों को चपेट में लेकर हड़कम्प मचा दिया था। उसकी आंच ठंडी नहीं हो पाई थी कि एक बार फिर कोरोना ने साइबर क्राइम सेल में एक साथ सात पुलिसकर्मी को चपेट में लेकर हड़कंप मचा दिया है। उल्लेखनीय है कोरोना वायरस को लेकर प्रशासन द्वारा की जा रही सख्ती और गाइडलाइंस को अमलीजामा पहनाने में पुलिस कर्मियों का अहम योगदान है। दबी जुबान पुलिसकर्मी इस बात की शिकायत करते हैं कि उनको कोरोना वैरियर का झुनझुना थमाकर महिमामंडित किया जा रहा है लेकिन जिस प्रकार सुविधाएं और सावधानियां उनके साथ होनी चाहिए प्रशासन उसकी अनदेखी कर रहा है। पुलिस कर्मियों की शिकायत जायज है क्योंकि हजरतगंज थाना स्थित साइबर सेल में उप निरीक्षक शिशिर यादव, उप निरीक्षक सौरभ मिश्रा, आरक्षी अखिलेश कुमार सिंह, आरक्षी अजय प्रताप सिंह, आरक्षी अखिलेश पटेल, आरक्षी हरि किशोर और आरक्षी गोविंद सिंह की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है।वही हजरतगंज कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अंजनी कुमार पांडे ने हिंदी दैनिक नयन जागृति संवाददाता को बातचीत में जानकारी दी कि नगर निगम की टीम बुलाकर पूरे थाने का सैनिटाइजेशन कराया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना पॉजिटिव केसेस साइबर सेल में मिले हैं। कहा, थाने के पुलिसकर्मियों में कोरोना वायरस के कोई लक्षण परिलक्षित नहीं हुए हैं अतः थाने का कार्य सुचारू रूप से चलता रहेगा।

Next Story