Top
undefined

सहारनपुर से गई एक करोड़ की फेंसाडिल सीरप समेत पांच गिरफ्तार

यह फेन्साडिल सीरप मेसर्स उमा मेडिकल, एन-12/340-एस-डब्ल्यू भारतपुरम काॅलोनी, देवपोखरी बजरडीहा के पते पर सहारनपुर के थाना जनकपुरी क्षेत्र के तारावती हाॅस्पिटल के सचिन मेडिकोज फार्मास्युटिकल, बजोरिया रोड से मंगाई गई थी।

सहारनपुर से गई एक करोड़ की फेंसाडिल सीरप समेत पांच गिरफ्तार
X

वाराणसी। एसटीएफ ने रोहनिया थानाक्षेत्र में भुल्लनपुर स्थित एक गोदाम में छापेमारी कर अवैध रूप से लाई गई खांसी में इस्तेमाल होने वाले 'फेंसीडिल सीरप की 50,700 शीशियां बरामद की। यह दवा सहारनपुर से मंगाई गई थी। सीरप का बाजार मूल्य एक करोड़ रुपये है। मौके पर एसटीएफ ने गोदाम पर एक ट्रक में सीरप लोड करवा रहे पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से मिले पांच मोबाइल फोन और 4040 रुपये जब्त कर लिए गए हैं। सीरप की इस खेप को चावल लदे ट्रक से असम के गुवाहाटी भेजने की तैयारी थी।

पुलिस के अनुसार बिहार, बंगाल के अलावा पूर्वोत्तर के राज्यों में फेंसीडिल का उपयोग नशे के लिए किया जाता है। इसलिए वहां यह ऊंचे दाम पर बिकती है। गिरफ्तार लोग काफी दिनों से प्रतिबंधित सीरप की तस्करी में लिप्त रहे बताए गए हैं। एसटीएफ ने रोहनिया पुलिस और खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के निरीक्षकों को साथ लेकर यह कार्रवाई की। यह फेन्साडिल सीरप मेसर्स उमा मेडिकल, एन-12/340-एस-डब्ल्यू भारतपुरम काॅलोनी, देवपोखरी बजरडीहा के पते पर सहारनपुर के थाना जनकपुरी क्षेत्र के तारावती हाॅस्पिटल के सचिन मेडिकोज फार्मास्युटिकल, बजोरिया रोड से मंगाई गई थी। मिर्जापुर में ही ट्रक पर 23 टन चावल लोड किया गया था। भुल्लनपुर के गोदाम में दो टन वजन के बराबद सीरप लोड होनी थी। सीरप की शीशियों को चावल की बोरियों में छिपाकर ले जाना था। गुवाहाटी में मतलूब अहमद बताता कि सीरप की खेप किसे देनी है। वीरेन्द्र ने बताया कि हर खेप में सीरप पहुंचाने के एवज में उसे एक्स्ट्रा 40 हजार रुपये मिलते रहे हैं। एसटीएफ व पुलिस मतलूब की तलाश कर रही है।

गिरफ्तार लोगों में लालपुर-पांडेयपुर थाना क्षेत्र में नई बस्ती की कुंती विहार काॅलोनी के सुनील पांडेय, जैतपुरा ईश्वरगंगी के प्रदीप जायसवाल, बड़ागांव के डीधिया के सुनील कुमार सरोज, जौनपुर के बादशाहपुर के धर्मापुर निवासी वीरेंद्र पासवान, गाजीपुर के सैदपुर के अमुअरा निवासी किशन यादव हैं। इनमें प्रदीप जायसवाल गोदाम मालिक जबकि वीरेन्द्र पासवान उस ट्रक का चालक है जिससे सीरप भेजी जानी थी। सभी के खिलाफ रोहनिया थाने में मादक पदार्थों की तस्करी में मुकदमा दर्ज कराया है पूछताछ में ट्रक चालक वीरेन्द्र पासवान ने बताया कि मिर्जापुर के मतलूब अहमद खान ने 25 टन चावल की बिल्टी बनवाई थी।

Next Story