Top
undefined

चार साल के मासूम को चचेरी बहन ने अपहरण कर प्रेमी के हवाले कर दिया

फिरौती मांगने की तैयारी की जा रही थी कि मामला खुल गया और पुलिस ने आरोपी चचेरी बहन, उसके प्रेमी और दोस्त को गिरफ्तार कर लिया।

चार साल के मासूम को चचेरी बहन ने अपहरण कर प्रेमी के हवाले कर दिया
X

फर्रुखाबाद। रिश्तों को शर्मसार कर देने वाली एक घटना में चार साल के मासूम का उसकी चचेरी बहन ने ही अपहरण करा लिया। इसकी ऐवज में फिरौती मांगने की तैयारी की जा रही थी कि मामला खुल गया और पुलिस ने आरोपी चचेरी बहन, उसके प्रेमी और दोस्त को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार बीती आधी रात को कोतवाली फतेहगढ़ के नगला नैन निवासी पूर्व सैनिक चरन सिंह का 4 वर्षीय पुत्र अभि का अपहरण हो गया था। पुलिस ने चद ही घंटों के बाद अभि को एटा से बरामद कर लिया। दरअसल चरन सिंह का एक मोबाइल भी चोरी किया गया था। इसके बाद पुलिस ने सर्विलांस की मदद से अभि की चचेरी बहन नीतू पुत्री रघुवीर निवासी धुमरी जैथरा, एटा को चरन सिंह के घर से उठा लिया। सीसीटीवी से मिले सुराग और मोबाइल की लोकेशन आने के बाद पुलिस ने नीतू से पूछताछ की। इस दौरान नीतू ने अपहरण की बात स्वीकार कर ली। उसने बताया कि उसने अपने प्रेमी सार्थक उर्फ रामू यादव पुत्र वीरपाल सिंह निवासी सरमनपुर बागवाला, एटा व उसके दोस्त जय किशन उर्फ जानू पुत्र उमर सैन निवासी कोडरा, फिरोजाबाद की मदद से अपहरण की घटना को अंजाम दिया गया। घर में जब सब सो गए थो तो अभि को उठाकर उसने सार्थक और उसके दोस्त जानू के हवाले कर दिया। नीतू को लेकर पुलिस की टीम एटा सार्थक के पास पंहुचे और वहां से अभि को बरामद कर लिया।

नीतू ने सार्थक के साथ प्रेम विवाह किया था, जिसका अभि के पिता चरन सिंह विरोध करते थे। इसी का बदला लेने नीतू अभि के घर अपने पति सार्थक के साथ पहुंची और दवा लेने के लिए रुकने की बात कही और इस वारदात को अंजाम दे दिया। बताया गया है कि मामले को लेकर फिरौती की मांग करने की तैयारी भी की जा रही थी।

Next Story