Top
undefined

गायत्री प्रसाद प्रजापति : रेप के आरोप में पहले भिजवाया जेल अब बचाव में उतरी रेप पीड़िता

गायत्री प्रसाद प्रजापति : रेप के आरोप में पहले भिजवाया जेल      अब बचाव में उतरी रेप पीड़िता
X

किस्मत के खेल भी निराले होते हैं इंसान कब अर्श से फर्श पर पहुंच जाए पता नहीं चलता। पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति के ऊपर यह कथन फिलहाल सटीक बैठ रहा है। सपा सरकार में मुलायम के नाक के बाल की हैसियत रखने वाले गायत्री प्रसाद प्रजापति पिछले ढाई साल से जेल की सींखचों के पीछे हैं। विगत दिनों जमानत पर बाहर आने के बाद पुलिस ने उन्हें फिर से गिरफ्तार कर लिया है, फिलहाल वह 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में हैं। पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में गायत्री प्रसाद प्रजापति पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला अपने बयान से मुकर गई है।

रेप पीड़िता ने अपने बयान से पलटते हुए कहा है कि गायत्री प्रसाद प्रजापति उसके पिता के समान हैं। पीड़िता के बयान बदलने से केस में नया मोड़ आ गया है।आपको बता दें, गायत्री प्रसाद प्रजापति, समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार में खनन मंत्री रहे थे। दुष्कर्म का आरोप लगाकर उन्हें जेल पहुंचाने वाली महिला ने अब उन्हें अपने पिता के समान करार दिया है। गायत्री प्रसाद प्रजापति पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली महिला ने कहा है कि गायत्री प्रजापति के साथ उसका संबंध पिता और बेटी का है। इसके लिए उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ नार्को टेस्ट करवाएं।

वहीं इसको लेकर महिला की तरफ से एक वीडियो भी जारी किया गया है। वीडियो जारी करते हुए सीएम योगी से महिला ने आग्रह किया है कि वकील राम सिंह मुख्य आरोपी है, उसकी जांच की जाए। रेप पीड़िता का कहना है कि आरोपी प्रजापति के खिलाफ प्राथमिकी लिखवा रहा है, उसके खिलाफ कार्रवाई की जानी चहिए। सूत्रों की माने तो बता दें कि गायत्री प्रजापति से करोड़ों की प्रॉपर्टी पाने के बाद महिला ने अपने कथित पति राम सिंह पर ब्लैकमेलिंग और दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करा दिया था। वहीं इस मामले में पुलिस का कहना है कि दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला ने गायत्री प्रसाद प्रजापति के पक्ष में बयान बदलने के लिए उनसे करोड़ों की कीमत का प्लाट और मकान लिया था।


Next Story