Top
undefined

केजीएमयू प्रशासन कोरोना की चपेट में

केजीएमयू प्रशासन कोरोना की चपेट में
X

लखनऊ केजीएमयू में उस समय हड़कंप मच गया जब वहां के प्रशासन में कार्यरत अधिकतर अधिकारियों की कोरोना रिपोर्ट पाज़ीटिव निकल आयी। ज्ञातव्य है किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी को कोरोना केसेज़ को लेकर प्रदेश की सबसे बड़ी नोडल एजेंसी में से एक के रूप में विकसित किया गया है। सूबे के अलग-अलग जनपदों से कोरोना जांच के लिए स्वैब एकत्र करके यहां जांच के लिए भेजा जाता है। किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी को हाई रिस्क कैटेगरी में रखा गया है। कोरोना मरीजों के इलाज के लिए यहां सर्वाधिक बेड की व्यवस्था भी किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में है। ऐसे में यहां भर्ती कोरोना पेशेंट के इलाज को लेकर वैसे भी काफी मारामारी मची रहती है। ऐसे समय में केजीएमयू प्रशासन के अधिकतर अधिकारियों का कोरोना पाज़ीटिव मिलना गंभीर चिंता का विषय है। केजीएमयू प्रशासन द्वारा कोरोना को लेकर किए जा रहे दावों की पोल खुल गई है।

आपको बता दें केजीएमयू का पूरा प्रशासन कोरोना पॉजिटिव निकल आया है। वीसी बिपिन पुरी, रजिस्ट्रार भी पॉजिटिव, सीएमएस शंखवार और एमएस ओझा पॉजिटिव, माइक्रोबॉयोलॉजी हेड अमिता जैन भी पॉजिटिव पाए गए हैं।

Next Story