Top
undefined

सौरम में खुला अखाडा, नरेश टिकैत के बाद अजित सिंह का धावा

। भाकियू अध्यक्ष आज सौरम पहुंचे तो अजित सिह भी दोपहर बाद वहां पहुंचने वाले हैं। मकसद है भाजपा को घेरना। इस बीच केंद्रीय मंत्री डाॅ संजीव बालियान इस युद्ध में भाजपा की कमान संभाले हुए हैं।

सौरम में खुला अखाडा, नरेश टिकैत के बाद अजित सिंह का धावा
X

मुजफ्फरनगर। सौरम गांव में सोमवार को भाजपा एवं रालोद कार्यकर्ताओं के बीच संघर्ष के बाद सियासी पारा गर्माने में रालोद नेता जुट गए हैं। सीधे रालोद मुखिया अजित सिंह इस जंग में कूद चुके हैं। भाकियू अध्यक्ष आज सौरम पहुंचे तो अजित सिह भी दोपहर बाद वहां पहुंचने वाले हैं। मकसद है भाजपा को घेरना। इस बीच केंद्रीय मंत्री डाॅ संजीव बालियान इस युद्ध में भाजपा की कमान संभाले हुए हैं।

सोमवार को हुई घटना को लेकर शाहपुर थाने पर रालोद व भाकियू समर्थकों के प्रदर्शन के बाद केंद्रीय राज्यमंत्री डाॅ संजीव बालियान के खिलाफ तहरीर देकर और 26 फरवरी को महापंचायत का ऐलान कर रालोद नेताओं ने अपने इरादे जाहिर कर दिए थे। इस बीच रालोद के मुखिया अजित सिंह ने आज सौरम पहुंच कर सियासी मोर्चा खोलने का ऐलान कर माहौल को गर्मा दिया है। मामले को लेकर भारतीय किसान यूनियन के प्रमुख चैधरी नरेश सिंह टिकैत सौरम पहुंच गए हैं । सौरम पहुंचने के बाद उन्होंने किसानों से मुलाकात की । रालोद मुखिया चैधरी अजीत सिंह सौरम में पहुंचकर वहां लोगों से मिलेंगे। इस बीच वहां सुरक्षा की दृष्टि से शोरम के ऐतिहासिक पंचायत स्थल के आसपास भारी पुलिस की तैनाती कर दी गई है जिसमें बुढ़ाना, तितावी, फुगाना, भोराकला सहित कई थानों की फोर्स मौजूद है। ज्ञात रहे कि शाहपुर थाना क्षेत्र के गांव शौरम में सोमवार को एक तेहरवीं में शामिल होने गए केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान तथा अन्य भाजपा नेताओं के सामने मुर्दाबाद के नारे लगाने को लेकर भाजपा समर्थकों तथा किसानों के बीच जमकर मारपीट हुई। इस बीच पुलिस द्वारा कुछ किसान आंदोलन समर्थकों को हिरासत में लिए जाने की किए जाने की सूचना से माहौल गर्मा गया। इसके चलते शौरम की ऐतिहासिक चैपाल पर पंचायत बुलाई गई। पंचायत के बाद हजारों किसानों ने थाना शाहपुर का घेराव किया। बाद में 26 फरवरी को शौरम में महापंचायत करने के ऐलान के साथ घेराव समाप्त कर दिया गया। इसे लेकर डाॅ संजीव बालियान आज अपनी तैयारी में जुटे हैं।

Next Story