Top
undefined

सरेराह महिलाओं को छेड़ता था मनचला, बुजुर्ग महिला ने टोका तो लोहे की रॉड से पीटकर अधमरा किया

लखनऊ। लगता है कानून का डर अब लोगों में खत्म होता जा रहा है। इसकी बानगी तब देखने को मिली जब राह चलते महिला को छेड़ रहे एक मनचले ने टोके जाने पर बुजुर्ग महिला को सरेराह मारपीट कर अधमरा कर दिया। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। ये शर्मनाक घटना गाजियाबाद में घटित हुई है। थाना कवि नगर क्षेत्र अंतर्गत राजापुर गांव की रहने वाली बुज़ुर्ग महिला ने दूसरी महिला से छेड़छाड़ और फब्तियां कसे जाने का विरोध किया था। शर्म की बात ये रही कि जब मनचला, बुजुर्ग महिला की पिटाई कर रहा था तो राहगीर खड़े होकर तमाशा देख रहे थे, कोई महिला को बचाने के लिए सामने नहीं आया। जानवरों की तरह पीटे जाने पर बुज़ुर्ग महिला बेहोश हो गई। पिटाई की घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई ।

जी भरकर पीटने के बाद मनचला मौके से फरार हो गया तब कुछ लोग हिम्मत करके आगे आए और घायल महिला को अस्पताल में भर्ती कराया। थाना कवि नगर में घायल महिला के पुत्र सुशांत चौधरी ने आरोपी के खिलाफ तहरीर देने के साथ ही पुलिस को सीसीटीवी फुटेज भी सौंपा था। इसके बाद पुलिस ने आरोपी सुनील चौधरी को कुछ घंटे के मेहनत के बाद खोज निकाला और गिरफ्तार कर लिया। महिला की निर्दयतापूर्वक पिटाई करने वाले सुनील चौधरी के ऊपर एसएसपी गाजियाबाद कलानिधि नैथानी ने गुंडा ऐक्ट लगाने के निर्देश दिए हैं। घटना के बारे में पुलिस को जानकारी देते हुए घायल महिला के पुत्र सुशांत चौधरी ने बताया कि उनकी कॉलोनी में रहने वाला सुनील चौधरी अकसर सड़क पर आती-जाती हर उम्र की महिलाओं पर फब्तियां कसता है और छेड़छाड़ करता है। शाम के वक्त उसकी मां ज़रूरी काम के चलते वहां से निकल रही थीं, तभी आरोपी ने किसी अन्य महिला के साथ छेड़छाड़ का प्रयास किया, जिसका उसकी मां ने विरोध किया। छेड़खाड़ करने से रोके जाने पर बुरी तरह से भन्नाए उस शख्स ने उनकी मां को चौराहे पर लात घूंसों से बुरी तरह पीटने के साथ ही वहां पड़ी लोहे की कुर्सी से कई वार कर दिया।

पिटाई की पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी में कैद हो गई। वहीं डॉक्टर ने बताया कि बुज़ुर्ग महिला को अंदरूनी, गंभीर चोटें आई है। महिला की हालत खतरे के बाहर नहीं है। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एन्टी रोम्यो स्क्वायड का गठन किया था। जिसका काम महिलाओं के साथ छेड़छाड़ करने वालों को कड़ा सबक सिखाना था। ऐसे में यह सवाल उठना लाजमी है कि पार्क में पति पत्नी बैठकर आपस में बात करते हो अथवा महिला अपने पुरुष मित्र के साथ बैठी दिख जाए तब एंटी रोम्यो स्क्वायड उन्हें सबक सिखाने पहुंच जाता है। लेकिन एक मनचला पिछले काफी समय से लगातार महिलाओं को सरेराह छेड़ता है और उसपर एंटी रोम्यो स्क्वायड की नज़र नहीं पड़ी।

Next Story