Top
undefined

दो साल के मासूम को भाई ने ही ट्रेन के आगे फेंका, लोको पायलट ने जान बचाई

बल्लभगढ़ रेलवे स्टेशन के पास एक दो साल के मासूम को उसके ही भाई ने चलती ट्रेन के सामने फेंक दिया।

दो साल के मासूम को भाई ने ही ट्रेन के आगे फेंका, लोको पायलट ने जान बचाई
X

आगरा। रेलवे स्टेशन पर एक किशोर ने दो साल के मासूम को उछालकर रेलवे ट्रेक पर फेंक दिया। हालांकि मालगाड़ी के पायलट की सूझबूझ से मासूम की जान बच गई।

बताया गया है कि बल्लभगढ़ रेलवे स्टेशन के पास एक दो साल के मासूम को उसके ही भाई ने चलती ट्रेन के सामने फेंक दिया। गनीमत रही कि लोको पायलट ने हिम्मत दिखाकर इमरजेंसी ब्रेक लगा दिए और बच्चे की जान बचा ली। उसे सकुशल उसकी मां को सौंप दिया। ट्रेन के आगरा पहुंचने के बाद उसने इसकी जानकारी आगरा रेलवे मंडल के अधिकारियों को दी। इस पर डीसीएम ने लोको पायलट की जमकर तारीफ की। बताया जा रहा है कि यह मालगाड़ी 21 तारीख को फरीदाबाद से चली थी। इसी दौरान बल्लभगढ़ स्टेशन के पास अचानक ही एक 15 साल के लड़के ने 2 साल के मासूम को उछाल कर ट्रैक पर फेंक दिया। लोको पायलट दीवान सिंह ने तत्काल ब्रेक लगाया और गाड़ी से उतरा। बच्चा ट्रेन के इंजन के पहियों के बीच फंसा था। हालांकि, सकुशल था और बहुत डर गया था। लोको पायलट ने उसे इंजन से निकाल कर मां के सपुर्द कर दिया। इस पूरी घटना की जानकारी उसने आगरा छावनी स्टेशन पर वरिष्ठ मंडल विद्युत अभियंता उत्तर मध्य रेलवे को वीडियो समेत लिखित जानकारी दी।

Next Story