Top
undefined

किसान से घूस मांगते लेखपाल का वीडियो वायरल एसडीएम ने दिए जांच के आदेश

लखनऊ। योगी सरकार भ्रष्टाचार खत्म करने का कितना भी बड़ा दावा कर ले लेकिन प्रदेश में घूसखोरी रुकने का नाम नहीं ले रही है। इसकी जीती जागती मिसाल कौशाम्बी में देखने को मिली है जहां लेखपाल ने किसान से पैमाइश के लिए सौदेबाजी करते हुए कहा कि मेरी मर्जी का पैसा दो और पैमाइश मैं तुम्हारी मर्जी की कर दूंगा। लेखपालों की घूसखोरी के चलते किसानों को आए दिन गंभीर समस्या का सामना करना पड़ रहा है। ताज़ा मामला संगम नगरी के करछना तहसील से सामने आया। यहां के लेखपाल ने एक किसान से जमीन की पैमाइश करने के नाम पर 10 हजार रुपए की डिमांड की। लेखपाल द्वारा घूस मांगने की घटना का किसी ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। मामला संज्ञान में आने के बाद एसडीएम करछना ने जांच के आदेश दिए हैं।

वायरल वीडियो में लेखपाल स्पष्ट तौर पर कह रहा है कि मेरे मन का और पैमाइश तुम्हारे हिसाब से। किसान पांच हजार रुपए दे रहा है लेकिन लेखपाल 10 हजार रुपए से कम लेने को तैयार नहीं है। वीडियो वायरल होने के बाद एसडीएम करछना ने 12 सितम्बर को इस पूरे केस की जांच के आदेश दे दिए हैं। साथ में डीएम प्रयागराज के संज्ञान में भी केस ला दिया है। यमुनापार के करछना तहसील अन्तर्गत हथिगन गांव निवासी सुभाष चन्द्र पटेल एक जमीन की पैमाइश कराना चाह रहा है। जिसके लिए वह हल्का लेखपाल मसूद अहमद से मिला। मसूद अहमद ने पैमाइश के लिए 10 हजार रुपए की मांग की। बड़ी मुश्किल से सुभाष ने पांच हजार रुपये इकट्ठा किए और लेखपाल मसूद अहमद के पास पहुंच गया। लेखपाल ने उसे गाँव के बाहर नहर की पुलिया पर मिलने के लिए बुलाया। जब सुभाष अपने एक परिचित के साथ वहां पहुंचा तो लेखपाल मसूद ने 10 हजार रुपये की डिमांड कर दी। सुभाष ने बहुत निवदेन किया लेकिन लेखपाल मानने को तैयार नहीं हुआ।

इस दौरान सुभाष के साथ गए युवक ने लेखपाल की बातचीत का वीडियो बना लिया। इस संबंध में एसडीएम करछना आकांक्षा राणा ने बताया कि उन्होंने वीडियो भी देखा है और शिकायती पत्र भी मिला है। जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। पीड़ित पक्ष ने लेखपाल द्वारा घूस मांगने की शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर भी किया है। आपको बता दें पिछले दिनों सोरांव तहसील मैं भी एक लेखपाल ने घूस मांगी थी जिससे रंगे हाथों पकड़ा गया था।

Next Story