Top
undefined

मजदूरों और किसानोें की आर्थिक दशा सुधारने के लिए काम करना होगाः मोहन भागवत

मोहन भागवत ने कोरोना काल में बेरोजगार हुए प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने और किसानों को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में कार्य करने की जरूरत बताते हुए केंद्र और प्रदेश से और कार्य की अपेक्षा की है।

मजदूरों और किसानोें की आर्थिक दशा सुधारने के लिए काम करना होगाः मोहन भागवत
X

कानपुर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख डॉ मोहन भागवत ने कोरोना काल में बेरोजगार हुए प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने और किसानों को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में कार्य करने की जरूरत बताते हुए केंद्र और प्रदेश से और कार्य की अपेक्षा की है।

पदाधिकारियों की दो दिवसीय बैठक के दौरान संघ के सरसंघचालक ने कहा कि लॉकडाउन के कालखंड का प्रभाव शहर और गांव दोनों में रोजगार पर पडा है। ऐसे में शहरी क्षेत्रों में श्रमिकों के लिए और ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों की आर्थिक दशा सुधारने के लिए और कार्य करने की जरूरत है। इसके जरिए उनमें आत्मनिर्भरता का भाव उत्पन्न करने की आवश्यकता है। उन्होंने इस बात पर संतोष जताया कि संघ के कार्यकर्ताओं ने संगठन के अतिरिक्त समाज में कई सामाजिक संगठनों, मठ, मंदिरों, गुरुद्वारों ने सेवा कार्य किए। सरकार को रोजगार सृजन की दिशा में काफी काम करने की जरूरत है। प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने में हमको काम करना है। दो दिवसीय बैठक के समापन बाद संघ प्रमुख मोहन भागवत 12 सितंबर को कानपुर से लखनऊ के लिए रवाना होंगे।

Next Story