Top
undefined

बागपत से बड़ा संदेश-इमाम ने मस्जिद में पढ़वाया हनुमान चालीसा

मथुरा के नंदबाबा मंदिर में दो मुस्लिमों द्वारा नमाज अदा करने के बाद ईदगाह में चार हिन्दूवादी कार्यकर्ताओं द्वारा हनुमान चालीसा पढ़कर जवाब दिया गया, लेकिन भाजपा नेता मनुपाल बंसल ने जब मस्जिद में बैठकर हनुमान चालीसा पढ़ा तो हिन्दुस्तान की गंगा जमुनी तहजीब मजबूत होती नजर आयी।

बागपत से बड़ा संदेश-इमाम ने मस्जिद में पढ़वाया हनुमान चालीसा
X

लखनऊ। आज धर्म आधारित राजनीति और आये दिन लव जिहाद को लेकर होते हंगामे से टूटने भाईचारे को मजबूती देने वाले लोग भी सामने आते रहते हैं। मथुरा के नंदगांव स्थित नंदबाबा मंदिर परिसर में दो लोगों के द्वारा नमाज अदा करने के बाद मचे सियासी हंगामे और कट्टरवादी बयानबाजी के बीच ही बागपत की एक मस्जिद से इमाम ने बड़ा संदेश देने का काम किया है। भले ही नंदबाबा मंदिर में नमाज का बदला चार हिन्दूवादी कार्यकर्ताओं ने मथुरा की ईदगाह में हनुमान चालीसा पढ़कर ले लिया हो, लेकिन बागपत की इस मस्जिद से जो संदेश दिया गया, उसने कट्टरवादी सोच को शर्मशार करने का काम किया है।

बता दें कि जनपद मथुरा के नंदबाबा मंदिर में दो मुस्लिमों द्वारा नमाज अदा करने के बाद से ही लगातार सियासत के सहारे हंगामा मचाया जा रहा है। नंदबाबा मंदिर की नमाज की क्रिया की प्रतिक्रिया हम ईदगाह में हनुमान चालीसा के पाठ के रूप में देख चुके हैं, लेकिन ईदगाह पर यह पाठ बदले की भावना से किया गया था, जबकि बागपत की मस्जिद के इमाम ने इबादतगाह के दरवाजे हनुमान चालीसा के लिए खोलकर भाईचारे का संदेश देने के साथ ही हिन्दुस्तान की गंगा जमुनी तहजीब का परिचय देने का काम किया है। सूत्रों के अनुसार बागपत में खेकड़ा क्षेत्र के विनयपुर गांव में भाजपा नेता मनुपाल बंसल मंगलवार को मस्जिद में पहुंचे। उनका कहना है कि मस्जिद के इमाम मौलाना अली हसन से इजाजत लेने के बाद उन्होंने भाईचारे के लिए पवित्र स्थान मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ किया। हनुमान चालीसा के पाठ को उनके द्वारा अपने फेसबुक अकाउंट पर लाइव किया गया। इसके बाद मनुपाल बंसल ने मस्जिद में ही बैठकर गायत्री मंत्र भी पढ़ा। इसे लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं। मनुपाल बंसल जिला पंचायत चुनाव की तैयारियां में भी जुटे हुए हैं। इस बारे में बागपत के एसपी अभिषेक सिंह का कहना है कि पुलिस ने जानकारी मिलते ही मामले की जांच कराई। हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए मस्जिद के इमाम की सहमति ली गई थी। मनुपाल बंसल विनयपुर की मस्जिद में कई बार आते जाते रहते हैं। इस बारे में जब मीडिया कर्मियों ने मस्जिद के इमाम मौलाना अली हसन से पूछा तो उन्होंने कहा कि खुदा का दरबार सभी के लिए खुला हुआ है।

भाईचारे को समर्पित इस मामले को रिटायर्ड आईएएस अफसर सूर्य प्रताप सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल के सहारे साझा किया है। सूर्य प्रताप ने फेसबुक पर मनुपाल द्वारा लाइव किये गये मस्जिद में हनुमान चालीसा के पाठ को भी टैग किया है। इस वीडियो के साथ उन्होंने लिखा है कि शायद इसे देखकर कुछ अंधभक्तों को उनके प्रश्नों का उत्तर मिल जाये।

Next Story