Top
undefined

सीएम त्रिवेन्द्र रावत के OSD की कोरोना से मौत

उत्तराखंड में आज 800 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव के सामने आए हैं। देहरादून में 7 लोगों की मौत कोरोना संक्रमण के चलते हुई है इनमें सबसे दुखद खबर यह है कि बुधवार से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र से पहले ही मुख्यमंत्री के ओएसडी आईएएस अधिकारी गोपाल सिंह रावत का भी आज उपचार के दौरान कोरोना संक्रमण के कारण ही देहांत हो गया है।

सीएम त्रिवेन्द्र रावत के OSD की कोरोना से मौत
X

देहरादून। उत्तराखंड में बुधवार से विधानसभा का सत्र शुरू हो रहा है लेकिन इससे पहले ही मंगलवार को आई एक खबर ने राज्य सरकार में शोक का वातावरण पैदा कर दिया है। पिछले 3 सप्ताह से कोरोना से जंग लड़ रहे राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के ओएसडी आईएएस अफसर गोपाल सिंह रावत ने आज कोरोना वायरस संक्रमण के कारण उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

आज राज्य में कोरोना संक्रमण के 874 नए मामले सामने आए देहरादून में ही सात लोगों की मौत कोरोना संक्रमण से होना बताई गई है। ओएसडी गोपाल सिंह रावत के निधन को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपनी व्यक्तिगत क्षति बताया है।

उत्तराखंड सरकार के लिए मंगल का दिन अमंगलकारी साबित हुआ है। राज्य में सरकार ने 23 सितंबर बुधवार पर विधानसभा सत्र शुरू करने की तैयारी की है लेकिन इससे पहले ही कोरोना वायरस के संक्रमण ने बड़ा संकट खड़ा कर दिया है राज्य में मंगलवार के दिन 874 नए पॉजिटिव के सामने आए हैं। जबकि 11 लोगों की मौत हो चुकी है इनमें मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के ओएसडी आईएएस अधिकारी गोपाल सिंह रावत भी शामिल हैं।

बताया गया है कि करीब 3 सप्ताह पूर्व गोपाल सिंह रावत कोरोना संक्रमित पाए गए थे इसके बाद उपचार के लिए उनको ऋषिकेश एम्स में भर्ती करा दिया गया था मंगलवार को उनकी हालत अचानक ज्यादा बिगड़ गई और एम्स में ही उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया इस खबर के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गोपाल सिंह रावत के निधन को अपनी व्यक्तिगत अपूरणीय क्षति बताते हुए शोक संवेदना प्रकट

बताया गया है कि करीब 3 सप्ताह पूर्व गोपाल सिंह रावत कोरोना संक्रमित पाए गए थे इसके बाद उपचार के लिए उनको ऋषिकेश एम्स में भर्ती करा दिया गया था मंगलवार को उनकी हालत अचानक ज्यादा बिगड़ गई और एम्स में ही उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया इस खबर के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गोपाल सिंह रावत के निधन को अपनी व्यक्तिगत अपूरणीय क्षति बताते हुए शोक संवेदना प्रकट की है वही राज्य में विधानसभा का एक दिवसीय मानसून सत्र जो कि 23 सितंबर को आयोजित किया जाना था कोरोना संकट में घिर गया है।

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल को भी कोरोना संक्रमण ने अपनी चपेट में ले लिया है इसके साथ ही राज्य के सचिवालय मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह के सरकारी आवास और राजभवन में भी कोरोना ने अपनी गहरी उपस्थिति दर्ज कराई है बुधवार को राज्य विधानसभा का एक दिवसीय मानसून सत्र बुलाया गया है लेकिन मंगलवार को तीन और विधायक कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से इस पर संकट छा गया है आज कोविड जांच में पॉजिटिव पाए गए विधायकों में धन सिंह रावत करण महारा और खटीमा से विधायक पुष्कर धामी भी शामिल हैं जबकि विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष पूर्व मंत्री श्रीमती इंदिरा हरदेश भी कोरोना से संक्रमित है और उनका इलाज दिल्ली स्थित मेदांता हॉस्पिटल में चल रहा है।

Next Story