Top
undefined

कोर्ट में पेशी के दौरान व्हीलचेयर पर दिखा मुख्तार अंसारी, पंजाब सरकार पर लगाया ये आरोप

यूपी में भाजपा विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड के आरोप सहित कई संगीन मामलों में आरोपी मुख्तार अंसारी को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद यूपी में लाये जाने की कवायद तेजी से चल रही है। इसी बीच बुधवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें मुख्तार अंसारी व्हीलचेयरपर बैठा है।

लखनऊ। यूपी में भाजपा विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड के आरोप सहित कई संगीन मामलों में आरोपी विधायक मुख्तार अंसारी को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद यूपी में लाये जाने की कवायद तेजी से चल रही है। इसी बीच बुधवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें मुख्तार अंसारी व्हीलचेयरपर बैठा है। पंजाब पुलिस के जवान उसके इर्दगिर्द घेरा बनाये हुए हैं। यह वीडियो मोहाली कोर्ट में मुख्तार की पेशी के दौरान की है। इसे मुख्तार का नया पैंतारा भी माना जा रहा है। वही पेशी के दौरान अदालत में मुख्तार ने पंजाब सरकार पर ही कई तरह के आरोप लगाये हैं।

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को बुधवार को मोहाली कोर्ट में पेश किया गया। व्हीलचेयर पर मुख्तार अंसारी को कोर्ट में पेश किया गया। इस दौरान मुख्तार का नया पैंतरा भी सामने आया। अभी तक जिस पंजाब पुलिस पर मुख्तार को बचाने का आरोप लग रहा था, उसी पर मुख्तार ने फंसाने का आरोप लगाया। मोहाली कोर्ट में पेश करने के बाद मुख्तार अंसारी को मोहाली में दर्ज मामले की चार्जशीट की कापियां दी गईं। मामले की अगली सुनवाई 12 अप्रैल को होगी। कोर्ट से निकलते समय मीडिया के सवालों पर मुख्तार ने कहा कि पंजाब सरकार उसे फंसा रही है।

उसके खिलाफ झूठे मामले दर्ज किये गए। कोर्ट में पेशी के बाद मुख्तार को दोबारा रोपड़ जेल भेज दिया गया। यूपी के बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी के मुकदमे और उनकी कस्टडी ट्रांसफर की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने 26 मार्च को फैसला सुनाया था। कोर्ट ने कहा था कि अंसारी को दो हफ्ते के अंदर उत्तर प्रदेश की जेल में शिफ्ट करना होगा। पंजाब सरकार की दलीलों से कोर्ट संतुष्ट नहीं हुआ था। यूपी भेजने के सवाल पर पंजाब के जेल मंत्री ने कहा कि कोर्ट का आर्डर लेकर यूपी पुलिस आए और उसे ले जाए। जेल मंत्री सुखविंदर सिंह रंधावा ने कहा कि अभी तक जेल के पास मुख्तार अंसारी को लेकर कोई कोर्ट का आर्डर नहीं आया है। जो भी आर्डर आएगा उसी के अनुसार मुख्तार को हैंडओवर कर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस तक आर्डर पहुंच जाने के सवाल पर रंधावा ने कहा कि मुख्तार अंसारी जेल में है। पुलिस की कस्टडी में नहीं है। पुलिस विभाग अलग है। हमारा विभाग जेल है। जेल के पास आदेश आएगा तो उसी के अनुसार काम करेंगे। हमारे पास पुलिस आर्डर लेकर आएगी तो हम उसे हैंड ओवर कर देंगे। 14 आपराधिक मुकदमों के लिए यूपी सरकार को अंसारी की कस्टडी की जरूरत है। जनवरी 2019 से अंसारी पंजाब की जेल में है। वहां उसे जबरन वसूली मामले में नामजद किया गया था।

यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर कहा था कि अंसारी की अनुपस्थिति के कारण यूपी में मुकदमों की सुनवाई नहीं हो पा रही है। यूपी सरकार की याचिका पर पंजाब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर अंसारी को यूपी सरकार की हिरासत में देने से इनकार किया था। पंजाब सरकार ने इसका कारण अंसारी के स्वास्थ्य बताया था। जेल अधीक्षक के माध्यम से दायर हलफनामे में कहा गया था कि अंसारी कथित तौर पर उच्च रक्तचाप, मधुमेह, अवसाद, पीठ दर्द और त्वचा की एलर्जी से पीड़ित है।

Next Story