Top
undefined

सीएमओ बोले-शासनादेश के तहत हुआ सभासद परिवार का टेस्ट

शासनादेश में स्पष्ट है कि किसी भी कोरोना पाॅजीटिव के परिवार जनों की कोविड जांच उसके पाॅजीटिव आने के पांच दिन बाद ही कराई जायेगी।

सीएमओ बोले-शासनादेश के तहत हुआ सभासद परिवार का टेस्ट
X

मुजफ्फरनगर। नगरपालिका परिषद् के सभासद की पत्नी की कोरोना संक्रमण से मौत के बाद सभासदों द्वारा लगाये गये आरोपों को लेकर सीएमओ डा. प्रवीण चोपडा से बात करने का प्रयास किया गया, लेकिन उनसे बात नहीं हो पायी।

उनके एक सहयोगी ने उनकी ओर से बताया कि सभासद नरेश चन्द के कोरोना पाॅजीटिव पाये जाने के बाद उनके व उनके परिजनों के उपचार एवं जांच के लिए कोविड गाइडलाइन के अनुसार कार्य किया गया है। उन्होंने बताया कि शासनादेश में स्पष्ट है कि किसी भी कोरोना पाॅजीटिव के परिवार जनों की कोविड जांच उसके पाॅजीटिव आने के पांच दिन बाद ही कराई जायेगी। इसमें भी पांच दिन बाद परिवार का कोविड टेस्ट करा दिया गया था। 31 को सभासद की रिपोर्ट आई और 4 अगस्त को उनकी पत्नी व अन्य परिजनों का टेस्ट कराया गया। 6 अगस्त को उनकी रिपोर्ट आ गयी थी। उनका कहना है कि दस्तावेज में सभी कुछ रिकार्ड है। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती गयी। जबकि सभासद के परिजनों का कहना है कि सीएमआके स्तर से जांच में बरती गयी देरी के कारण ही महिला का आॅक्सीजन लेवल कम हुआ। उनको लगातार बुखार की शिकायत बने रहने के बाद भी जांच नहीं करायी गयी।

वहीं सभासद नरेश चन्द मित्तल की पत्नी का आज अंतिम संस्कार कर दिया गया। कोरोना से उनकी बीते दिन मौत हो गयी थी, जिसको लेकर सभासदों में गम और गुस्सा बना हुआ है। वार्ड 12 के सभासद नरेश चन्द के घर शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का तांता लगा रहा। दोपहर बाद तीन बजे शहर श्मशान घाट में सभासद पत्नी का अंतिम संस्कार किया गया। इसके बाद सभासद राजीव शर्मा के नेतृत्व में सीएमओ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए शिकायत की गयी है। इसमें जांच कराने की मांग भी डीएम से की गयी। सभासद नरेश चन्द मित्तल की पत्नी का आज अंतिम संस्कार कर दिया गया। कोरोना से उनकी बीते दिन मौत हो गयी थी, जिसको लेकर सभासदों में गम और गुस्सा बना हुआ है। वार्ड 12 के सभासद नरेश चन्द के घर शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का तांता लगा रहा। दोपहर बाद तीन बजे शहर श्मशान घाट में सभासद पत्नी का अंतिम संस्कार किया गया। इसके बाद सभासद राजीव शर्मा के नेतृत्व में सीएमओ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए शिकायत की गयी है। इसमें जांच कराने की मांग भी डीएम से की गयी।

Next Story