Top
undefined

राकेश टिकैत बोले-जनता के बिना सत्ता संभव नहीं, भाईचारा कायम रखें किसान

मुजफ्फरनगर के सोरम गांव की घटना के बाद भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत ने बयान जारी करते हुए जनप्रतिनिधियों को भी आईना दिखाने का काम किया है।

राकेश टिकैत बोले-जनता के बिना सत्ता संभव नहीं, भाईचारा कायम रखें किसान
X

गाजियाबाद। किसान आंदोलन के बीच ही भाजपाईयों का विरोध करने वाला सनसनीखेज ऐलान कर चुके भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौ. राकेश टिकैत ने बयान जारी किया है कि जनप्रतिनिधियों को जनभावना का ध्यान रखना चाहिए, यह नहीं भूलें कि जनता के बिना सत्ता संभव नहीं है। उन्होंने टकराव की स्थिति को सामाजिक ताने बाने के लिए खतरनाक बताते हुए कहा कि किसान भाईचारा कायम रखने का काम करें, यह याद रखें कि सभी लोग अपने ही हैं।

भारतीय किसान यूनियन के मीडिया प्रभारी धर्मेन्द्र मलिक ने सोमवार देर शाम मुजफ्फरनगर जनपद के सोरम गांव में केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान का विरोध करने पर किसानों पर हुए हमलों के बीच ही यूनियन प्रवक्ता राकेश टिकैत की ओर से बयान जारी किया है। इसमें राकेश टिकैत ने कहा कि आपस का भाईचारा बना रहे, किसानों को यही प्रयास करना चाहिए, सभी लोग अपने है।

उन्होंने कहा कि अगर कोई जनप्रतिनिधि आपके गांव में जाता है तो उससे अपने सवाल सीमा के दायरे में करें। लोकतंत्र में सभी को अपनी बात कहने का अधिकार है। उन्होंने किसानों के बीच जा रहे जनप्रतिनिधियों को भी नसीहत देते हुए कहा है कि उनको भी जनभावना का ध्यान रखना चाहिए। उनकी जिम्मेदारी बनती है कि किसानों की बात को, उनकी पीड़ा को सरकार तक स्पष्ट रूप से पहुंचाना चाहिए। उन्होंने जनप्रतिनिधियों को याद दिलाते हुए कहा कि जनता के बिना सत्ता संभव नहीं है। जनप्रतिनिधियों व किसानों को भाईचारा का पालन करना चाहिए।

राकेश टिकैत किसान आंदोलन को राष्ट्रव्यापी समर्थन जुटाने के लिए सोमवार को दौरे पर रहे। उन्होंने पहले हरियाणा के खरखौदा में किसान महापंचायत को सम्बोधित किया और बाद में राजस्थान के जनपद हनुमानगढ के नोहर में किसान महापंचायत में शामिल हुए।

Next Story