Top
undefined

मुजफ्फरनगर में रिमझिम बारिश से मौसम हुआ सुहावना

बुधवार सवेरे से ही काली घटी छायी रही और रिमझिम बारिश के कारण मौसम ने करवट ली और लोगों को भयंकर गरमी से निजात मिली।

मुजफ्फरनगर में रिमझिम बारिश से मौसम हुआ सुहावना
X

मुजफ्फरनगर। जनपद में जन्माष्टमी पर्व पर मौसम नरम बना हुआ है। सोमवार को हुई तेज बारिश के बाद से ही बादल लगातार छाये रहे, लेकिन इसके बाद भी गर्मी से लोगों को निजात नहीं मिल रही थी, लेकिन बुधवार सवेरे से ही काली घटी छायी रही और रिमझिम बारिश के कारण मौसम ने करवट ली और लोगों को भयंकर गरमी से निजात मिली।

बता दें कि पिछले करीब एक महीने से बारिश का इंतजार किया जा रहा था, लेकिन मौसम में लगातार गरमी बढ़ रही थी। उमस ने भी लोगों का जीना मुहाल कर दिया था। उमस और गरमी के कारण लोगों को बारिश की उम्मीद बंधी थी। ऐसे में यह उम्मीद सोमवार को पूरी तो हुई, लेकिन भारी बारिश होने के बाद भी लोगों को गरमी से निजात नहीं मिल पायी थी। सोमवार को 100 मिलीमीटर बारिश के चलते पूरा शहर ही डूब गया था। चारों ओर पानी ही पानी था। इसके बाद से ही शहर में लगातार घटा बनी हुई थी, लेकिन इसके साथ ही उमस भी बरकरार रही। बुधवार को फिर से मौसम ने करवट ली और सवेरे सवेरे छाये काले बादलों से रिमझिम बारिश शुरू हुई। कुछ हिस्से में तेज बारिश भी पड़ी, इस बारिश के बाद भी काले बादल छाये रहने के बाद मौसम में नरमाहट आयी। इससे लोगों को गरमी और उमस से कुछ निजात मिली। बारिश के बीच ही शहर में सफाई अभियान भी चलता रहा। इस बारिश के कारण रुड़की रोड पर चल रहा निर्माण कार्य भी प्रभावित रहा। बारिश के कारण निचले इलाकों फिर से जलभराव की समस्या उत्पन्न होने के कारण वहां के निवासियों को आवागमन के लिए परेशानी बरतनी पड़ी। कई इलाकों में बारिश का पानी जमा होने के कारण लोगों में रोष भी नजर आया। कुछ लोगों ने नगरपालिका परिषद् की अध्यक्ष को भी पत्र लिखकर जल निकासी का प्रबंध कराये जाने की मांग की है।

Next Story