Top
undefined

वेस्ट यूपी पहुंची बेंगुलरु हिंसा की तपिश, मेरठ में युवक ने की टिप्पणी, मुकदमा दर्ज

बेंगलुरु में हुए दंगे को लेकर विवादित बयान देने के आरोप में उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक युवक के खिलाफ पुलिस ने धार्मिक उन्माद फैलाने समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है।

वेस्ट यूपी पहुंची बेंगुलरु हिंसा की तपिश, मेरठ में युवक ने की टिप्पणी, मुकदमा दर्ज
X

मेरठ। बेंगलुरु में सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर एक समुदाय विशेष के लोगों के लिए आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद भड़की हिंसा की आग की तपिश अब वेस्ट यूपी में भी पहुंचने लगी है। बेंगलुरु में कांग्रेस विधायक के घर पर हिंसक प्रदर्शन के मामले में मेरठ के एक युवक द्वारा सोशल मीडिया के सहारे की गयी टिप्पणी को लेकर यहां तनाव नजर आया। पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपी युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उसके द्वारा सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर जांच की जा रही। पुलिस इस मामले में बेंगलुरु की हिंसा से सीख लेते हुए सतर्कता बरत रही है।

बेंगलुरु में हुए दंगे को लेकर विवादित बयान देने के आरोप में उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक युवक के खिलाफ पुलिस ने धार्मिक उन्माद फैलाने समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है। पुलिस अधिकारी मनीष बिष्ट ने बताया कि दरोगा पवन मलिक की शिकायत के आधार पर आरोपी युवक शाहजेब के खिलाफ धार्मिक उन्माद फैलाने समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। सीओ बृजेश कुमार का कहना है कि आरोपी जांच में दोषी पाया गया तो उसकी गिरफ्तारी की जाएगी। पुलिस सोशल मीडिया पर भी नजर रख रही है ताकि शहर की शांति और सौहार्द को किसी भी तरह बिगडने से रोका जा सके। कांग्रेस नेता के रिश्तेदार की सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में मंगलवार रात हिंसा भड़क गई थी।हालत काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी, इस दौरान कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेंगलुरु में दंगा करने वाले पूरी तैयारी के साथ आए थे। इन्होंने दो पुलिस थानों को निशाना बनाया और विधायक के घर पर हमला करने के बाद उसे आग के हवाले कर दिया। हमलावार करीब 200 से 300 लोगों के 5 ग्रुप में आए थे। जिनके हाथों में धारदार हथियार, ईंट-पत्थर, बोतलें, लोहे की राॅड और पेट्रोल बम थे। बेंगलुरु में हुए घटनाक्रम को लेकर कर्नाटक सरकार ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के माॅडल पर आगे बढने का फैसला किया है। इसके तहत दंगाइयों की पहचान करके दंगे में हुए पूरे नुकसान की भरपाई की जाएगी। बेंगलुरु में हुई इस हिंसा की तपिश अब वेस्ट यूपी में भी महसूस की जारही है। यहां मेरठ जनपद में युवक की सोशल मीडिया पोस्ट तनाव का कारण बन रही है। मेरठ जनपद की गिनती उत्तर प्रदेश के संवेदनशील जिलों में होती है, इसलिए शहर में दंगे को लेकर युवक के माध्यम से जो विवादित बयान आया है उसे लेकर पुलिस काफी सतर्कता बरत रही है। पुलिस अभी जांच में जुटी पुख्ता सुबूत की तलाश की जा रही है। इसके बाद ही युवक की गिरफ्तारी की जायेगी। अभी फिलहाल मुकदमा दर्ज किया गया है, ताकि रोष को दबाया जा सके। वहीं राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार ने इस मामले में सभी जनपदों के पुलिस कप्तानों को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिये हैं।

Next Story