Top
undefined

प्रकृति से हम हैं, हमसे प्रकृति नहीं - डॉ मोहन भागवत

प्रकृति से हम हैं, हमसे प्रकृति नहीं - डॉ मोहन भागवत
X

लखनऊ। कोरोना वायरस का प्रकोप दिन प्रति दिन बढ़ता ही जा रहा है। जिस पर डॉ मोहन भागवत ने एक वर्चुअल कर्यक्रम में कहा की प्रकृति से हम हैं, हमसे प्रकृति नहीं। रविवार को आरएसएस के पर्यावरण गतिविधि विभाग एवं हिंदू आध्यात्मिक की ओर से आयोजित प्रकृति वंदन कार्यक्रम में डॉ मोहन भागवत ने कहा की वर्तमान में हमारा जीवन जीने का जो तरीका है वह प्रकृति के अनुकूल नहीं है। जिस का दुष्परिणाम सामने आ रहे हैं। हमे अपने जीने तरीका बदलना पड़ेगा। उन्होंने यह भी कहा की हमारी संस्कृति भी यह ही सिखाती है की हम प्रकृति के अनुकूल जीवन जिए और उसका पालन पोषण करे। पर आज कल हम उसका विपरीत कर रहे है , जिसका दुष्परिणाम हम लोग भुगत रहे है। उन्होंने पर्यावरण के पालन पोषण पर जोर दिया। जिस पर सदस्यों ने प्रकृति संरक्षण का संकल्प लिया। उन्होंने अपील की कि इस समय प्रकृति संरक्षण बेहद जरूरी है। आपको बता दे की डॉ मोहन भागवत पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देने पर जोर देते रहते हैं।

Next Story