Top
undefined

'फेफड़ों' को रखना है स्वस्थ, तो इनका करें सेवन....

फेफड़ों को रखना है स्वस्थ, तो इनका करें सेवन....
X



बदलते मौसम में भी सेहत का विशेष खयाल रखना पड़ता है। क्योंकि जरा सी भी लापरवाही नुकसानदेह हो सकती है। पर्यावरण प्रदूषण, धुम्रपान, पराली जलाने का धुंआ जैसी चीजें फेफड़ों की गतिविधियों पर नकारात्मक असर डालती हैं, जिससे फेफड़ों से जुड़ी कई समस्याएं हो सकती हैं। पूरे भारत में लाकडाउन जैसे-जैसे खुलने लगा है, वैसे ही प्रदूषण का स्तर भी वापस से बढ़ने लगा है। ऐसे में सेहतमंद रहने के लिए लंग्स का स्वस्थ रहना बेहद जरूरी हो गया है। लोग कोरोना संक्रमण के दौर में लंग्स का ज्यादा ख्याल रखने लगे हैं। बदलते मौसम में भी सेहत का विशेष खयाल रखना पड़ता है। क्योंकि जरा सी भी लापरवाही नुकसानदेह हो सकती है। पर्यावरण प्रदूषण, धूम्रपान, पराली जलाने का धुंआ जैसी चीजें फेफड़ों की गतिविधियों पर नकारात्मक असर डालती हैं, जिससे फेफड़ों से जुड़ी कई समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए जरूरी है कि आप अपने फेफड़ों की उचित देखभाल के लिए डाइट में कुछ चीजों को शामिल करें। जिससे आप अपने फेफड़ों को हेल्दी रख सकते हैं।

तो चलिए जान लेते हैं कौन-कौन सी ऐसी चीजें हैं जो आपको अपने डाइट में जरूर शामिल करनी चाहिए-

हल्दी-

वैसे तो हर एक भारतीय व्यंजन में हल्दी का इस्तेमाल होता ही है लेकिन यह स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद भी है। क्योंकि इसमें कई एंटी-आक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो हमें संक्रमण से दूर रखते हैं। सीने में जकड़न, भारीपन, सांस लेने में दिक्कत, जैसी समस्या में हल्दी का सेवन फायदेमंद होता है।

पेपरमिंट टी-

यदि हमें लंग्स को स्वस्थ रखना है तो डाइट में पेपरमिंट टी को जरूर शामिल करना चाहिए। पेपरमिंट टी का सेवन लंग्स की सफाई करने का काम करता है, जिससे लंग्स हेल्दी रहते हैं। आप दिन में एक से दो बार पेपरमिंट टी का सेवन कर सकते हैं क्योंकिल यह लंग्स को इंफेक्शन से लड़ने के लिए मजबूत बनाता है।

शहद- शहद में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो लंग्स को मजबूत बनाए रखने में सहायक होते हैं। आप फेफड़ों का डिटाक्सिफिकेशन करने के लिए सुबह एक गिलास नींबू पानी में शहद का सेवन कर सकते हैं। यह स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है और फेफड़ों की कई समस्याओं को दूर रखता है।

टमाटर- टमाटर में लाइकोपीन नामक तत्व होता है, जो कि एक कैरोटीनायड एंटीआक्सिडेंट है। यह फेफड़ों के स्वास्थ्य में सुधार लाने में मदद करता है। टमाटर को अपनी डाइट में शामिल करने से लंग्स की तकलीफ को कम किया जा सकता है।

ब्रोकली-

ब्रोकली एक बड़ी ही फायदेमंद सब्जी है, जिसे अलग-अलग तरीके जैसे सब्जी बनाकर, सलाद या फिर स्नैक्स में खा सकते हैं। ब्रोकली में एंटी-आक्सीडेंट्स के अलावा कई ऐसे गुण होते हैं जो सांस से जुड़ी परेशानियों से राहत दिलाने में कारगर है। यदि फेफड़ों को मजबूत बनाना है, तो अपनी डाइट में ब्रोकली को जरूर शामिल करें।

सेब व अनार- यह दोनों ही फल लंग्स की क्लीनिंग में बड़ा रोल प्ले करता है। सेब में विटमिन ई और सी दोनों पाए जाते हैं। लंग्स कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से बचने के लिए आपको अपनी डेली डायट में एक अनार और एक सेब जरूर शामिल करना चाहिए। आप चाहें तो इनका जूस भी पी सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि जूस ताजे फलों से बना हुआ हो, ना कि आपको पैक्ड जूस लेना है।

Next Story