Top
undefined

'हरे सेब' का जूस 'डायबिटीज' के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद

हरे सेब का जूस डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद
X

जूस पीने पर अक्सर प्रतिबंध लगा दिया जाता है क्योंकि मधुमेह रोगियों में शुगर का स्तर अधिक होता है। लेकिन यह स्वस्थ रस कुछ मधुमेह रोगियों के लिए ही है। डायबिटीज को कम करने के लिए ग्रीन जूस बेहद फायदेमंद है।

आजकल डायबिटीज एक आम बीमारी है। भारत में लगभग हर तीसरा व्यक्ति इसका रोगी है। भागदौड़ के इस समय में हमारे गलत आहार और तरीकों के कारण कई लोग टाइप-2 मधुमेह से पीड़ित हैं। भारत में लगभग 70 मिलियन लोग इस बीमारी से पीड़ित हैं। यही कारण है कि भारत को दुनिया की मधुमेह राजधानी के रूप में भी जाना जाता है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि हरे सेब से बना जूस एक ऐसा हेल्दी जूस है जिसे पीने से सिर्फ मधुमेह ही नियंत्रित नहीं होता है, बल्कि यह हमारे शरीर को साफ करता है और हमें कई बीमारियों से भी बचाता है।

जूस पीने पर अक्सर प्रतिबंध लगा दिया जाता है क्योंकि मधुमेह रोगियों में शुगर का स्तर अधिक होता है। लेकिन यह स्वस्थ रस कुछ मधुमेह रोगियों के लिए ही है। डायबिटीज को कम करने के लिए ग्रीन जूस बेहद फायदेमंद है। यह रस सभी प्रकार के मधुमेह के रोगियों के लिए समान रूप से फायदेमंद है, जैसे कि टाइप-1, टाइप -2 और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल मधुमेह।

कैसे बनाएं ये हेल्दी जूस: इस जूस को बनाने के लिए आप हरे सेब, खीरा, नींबू, केल, हरी गोभी, अजवाइन, पालक, चुकंदर, लहसुन, टमाटर, अदरक और करेले जैसे चार-पांच सामग्रियों का उपयोग कर सकते हैं। सभी सामग्रियों को बारीक काट लें और अपनी जरूरतों के अनुसार अच्छी तरह से मिलाएँ। आपका हेल्दी जूस तैयार है।

अपने ग्रीन जूस में फल या चीनी को शामिल करने से बचें, क्योंकि चीनी सूजन पैदा करती है और आपके पाचन को नुकसान पहुंचा सकती है, जो कि हरे रंग के रस के बिल्कुल विपरीत हैं जो आप चाहते हैं। सेब और नाशपाती अद्भुत एंजाइम और पोषक तत्वों से भरे हुए होते हैं, लेकिन आपके रस में बहुत अधिक शुगर जोड़ सकते हैं।

नोट- नींबू या नींबू के छिलके को कभी भी जूसर में न डालें, क्योंकि यह आवश्यक तेलों को बहुत अधिक कंसंट्रेट करता है और आपके पेट को नुकसान पहुंचा सकता है।

ग्रीन जूस के स्वास्थ लाभ-

1. यह है विटामिन से भरपूरः हरे सेब, ककड़ी, नींबू, पालक, करेला, टमाटर और लहसुन जैसी स्वस्थ सामग्री से बना यह जूस विटामिन-ए, विटामिन-सी, विटामिन-के और आयरन का बेहतरीन स्रोत है।

2. एनर्जी बढ़ाता हैः एंटी-आक्सीडेंट से भरपूर यह हरे रंग का जूस हमें कई हानिकारक बीमारियों से बचाता है। साथ ही यह जूस हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है और पूरे दिन हमारी एनर्जी को बढ़ाता है। यह रस हमारे शरीर की मेटाबॉलिज्म दर को भी बनाए रखता है।

3. ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता हैः यह स्वस्थ रस न केवल मधुमेह के रोगियों के लिए है, बल्कि उच्च रक्तचाप और कई हृदय रोगों के जोखिम को भी कम करता है।

4. रक्त को शु( करता हैः हम सभी जानते हैं कि करेला और चुकंदर हमारे रक्त को शु( करते हैं। लेकिन यह रस एंटी-आक्सिडेंट से भरा हुआ है। इस कारण से यह स्वस्थ रस हमारे शरीर को डिटॉक्स करता है और हमारे रक्त को साफ करता है।

5. पाचन में सुधार लाता हैः ताजा हरे रस में एंजाइम आपके पाचन स्वास्थ्य में सुधार करते हैं, और अधिकांश स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली का कम से कम 80 प्रतिशत हिस्सा आपके पाचन तंत्र में रहता है।

6. आपकी त्वचा में सुधार लाता हैः ग्रीन जूस में मौजूद अतिरिक्त हाइड्रेशन और आंत-हीलिंग लाभ आपकी त्वचा को सुन्दर बनाते हैं, इसे साफ रखते हैं और आपको अतिरिक्त चमक प्रदान करते हैं।

Next Story