Top
undefined

भूल जाएंगे महंगी दवाइयां, महीनेभर तक पिएं सिर्फ 1 कप अमरूद के पत्तों से बनी चाय

भूल जाएंगे महंगी दवाइयां, महीनेभर तक पिएं सिर्फ 1 कप अमरूद के पत्तों से बनी चाय
X

अक्सर लोग जब अमरूद की बात करते हैं तो इसके स्वाद के बारे में ही चर्चा करते हैं। लेकिन, इसके फायदों के बारे में कम ही लोगों को पता होता है। अमरूद में कई औषधीय गुण होते हैं, जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद हैं। अमरूद के फल ही नहीं, बल्कि इसके पत्ते भी कई मायनों में सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। अमरूद के पत्ते कई पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, जिसके चलते यह अमरूद के फलों से भी ज्यादा गुणकारी हैं। अपने औषधीय गुणों के चलते कई जगह अमरूद की पत्तियों का इस्तेमाल चाय के तौर पर भी होता है। अमरूद की पत्तियों से बनी चाय को हर्बल चाय के रूप में जाना जाता है, जिसके औषधीय गुण आपको भी हैरान कर देंगे।

अमरूद की पत्तियों में एंटीआक्सीडेंट, फ्लेवोनोइड और क्वेरसेटिक के साथ मेडिसिनल प्रापर्टीज भी भारी मात्रा में पाए जाते हैं, जो अमरूद की पत्तियों से बनी चाय की लोकप्रियता बढ़ा रहे हैं। यकीन मानिए इससे होने वाले सेहत संबंधी लाभों के बारे में जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। तो चलिए बताते हैं आपको अमरूद की पत्तियों से बनी चाय के कुछ जबरदस्त फायदों के बारे में-

1. कैसे बनाएं अमरूद के पत्तों की चाय

इस चाय को बनाने के लिए सबसे पहले आपको जरूरत होगी कुछ अमरूद के पत्तों की। इसके साथ एक तिहाई चम्मच नार्मल चाय पत्ती की, डेढ़ कप पानी और शहद की।

विधि- सबसे पहले अमरूद के करीब 10 ताजे पत्तों को अच्छे से धो लें। सासपैन लें और उसमें डेढ़ कप पानी को सामान्य आंच पर 2 मिनट के लिए उबलने के लिए रख दें। अब इसमें धुले हुए अमरूद के पत्ते डाल दें और स्वाद और कलर के लिए नार्मल चाय की पत्ती डालें। अब इसे 10 मिनट के लिए पकाएं। अंत में इसमें मीठेपन के लिए शहद मिला दें। आपकी अमरूद के पत्तों की चाय तैयार है।

2. कोलेस्ट्राल कम करेः शरीर में कोलेस्ट्राल की अधिकता कई स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती है। खासकर हार्ट के लिए कोलेस्ट्राल की अधिकता काफी खतरनाक होती है। इसकी अधिकता से हार्ट अटैक, हार्ट स्ट्रोक और एथेरोक्स्लेरोसिस का खतरा बना रहता है। दरअसल, कोलेस्ट्राल शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बाधित करता है। जो कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म देता है। एक अध्ययन के मुताबिक, अमरूद के पत्तों की चाय काफी हद तक कोलेस्ट्राल का स्तर कम करती है। जिससे कई तरह के स्वास्थ्य लाभ होते हैं।

3. डायबिटीज से मिले छुटकारा

अमरूद के पत्तों से बनी चाय पीने से डायबिटीज की समस्या से भी छुटकारा मिलता है। टाइप 2 डायबिटीज की समस्या से जूझ रहे लोगों को अमरूद के पत्तों से बनी चाय जरूर पीना चाहिए। खाली पेट अमरूद के पत्तों से बनी चाय पीने से शुगर लेवल कंट्रोल होता है और डायबिटीज की समस्या शरीर को परेशान नहीं करती। इसलिए अगर आप इस समस्या से परेशान हैं तो दूध से बनी नार्मल चाय पीने के बजाय अमरूद के पत्तों से बनी चाय ही पिएं।

4. मुंहासों से छुटकारा दिलाएः

अमरूद के पत्तों में मौजूद औषधीय तत्व खून को साफ करने का काम करते हैं। आमतौर पर चेहरे पर होने वाली मुंहासें और दाग-धब्बे की सबसे बड़ी वजह शरीर में मौजूद टाक्सिन्स होते हैं और अमरूद के पत्ते खून से इन्हीं टाक्सिन्स को बाहर निकालते हैं। जिससे चेहरे पर होने वाले दाग-धब्बों और मुंहासों से छुटकारा मिलता है। दिन में एक बार अमरूद के पत्तों से बनी चाय पीने से आपको काफी हद तक मंहासों की समस्या से राहत मिल सकती है। इसके अलावा, अमरूद की पत्तियों को पीसकर उसे मुंहासों पर लगाने से भी इस परेशानी से छुटकारा मिलता है।

5. बालों के झड़ने की परेशानी होगी दूरः अमरूद के पत्तों में मौजूद औषधीय तत्व खून को साफ करने का काम करते हैं। आमतौर पर चेहरे पर होने वाले मुंहासे और दाग-धब्बों की सबसे बड़ी वजह शरीर में मौजूद टाक्सिन्स होते हैं और अमरूद के पत्ते इन्हीं टाक्सिन्स को खून से बाहर निकालते हैं। जिससे चेहरे पर होने वाले दाग-धब्बों और मुंहासों से छुटकारा मिलता है। दिन में एक बार अमरूद के पत्तों से बनी चाय पीने से आपको काफी हद तक मुंहासों की समस्या से राहत मिल सकती है। इसके अलावा, अमरूद की पत्तियों को पीसकर उसे मुंहासों पर लगाने से भी इस परेशानी से छुटकारा मिलता है।

6. पेट के लिए फायदेमंदः अमरूद के पत्तों से बनी चाय गैस, कब्ज और पेट की ऐंठन जैसी अन्य बीमारियों का भी रामबाण इलाज है। रोजाना एक कप अमरूद के पत्तों से बनी चाय आपको पेट की कई बीमारियों से छुटकारा दिला सकती है। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण ना सिर्फ शरीर से टाक्सिन्स बाहर निकालते हैं, बल्कि पेट को ठंडक भी पहुंचाते हैं, तो अगर आप भी पेट संबंधी बीमारी से परेशान हैं तो रोजाना अमरूद के पत्तों से बनी चाय का सेवन जरूर करें।

Next Story