Top
undefined

मेरठ का कलदीप मर्डर केस है अनुज हत्याकांड की मास्टर की

मेरठ का कलदीप मर्डर केस है अनुज हत्याकांड की मास्टर की
X

मुजफ्फरनगर। मोरना का अनुज कर्णवाल हत्याकांड अब पूरी तरह से सियासी रंग ले चुका है पुलिस अपने दावे को साबित करने के लिए दिन-रात मशक्कत कर रही है वहीं विपक्ष में इस हत्या को लेकर सत्ता पक्ष को खेलने का पूरा ताना-बाना बुन लिया है।

पुलिस बदमाशों तक पहुंच चुकी है लेकिन फिर भी उसके हाथ खाली ही नजर आ रहे हैं पुलिस अनुज हत्याकांड को दौराला के कुलदीप हत्याकांड की कड़ी से जोड़ने का प्रयास कर रही है इसी एक कड़ी से अनुज हत्याकांड को खोलने का दावा अफसर कर रहे हैं लेकिन कुलदीप हत्याकांड के हत्यारोपी बदमाश पुलिस से कोसों दूर हैं हालांकि उन पर इनाम भी घोषित हो चुका है लेकिन पुलिस के लगातार बढ़ते दबाव और सुराग रस्सी के हर हथकंडे अपनाने के बावजूद भी यह शातिर बदमाश पकड़ से बाहर है इन बदमाशों के घरों पर पुलिस की नजर तो हैं लेकिन इन घरों के दरवाजों पर लटके तालों को खोलने की चाबी अभी पुलिस नहीं जुटा पाई है मकानों पर नोटिस चस्पा कर दिए गए हैं लेकिन इन नोटिस को देखने के लिए घर पर कोई मौजूद नहीं है।

मेरठ पुलिस ने ग्राम भेडाहेडी गांव में राहुल, मोरना में अजीत व कपिल के घरों पर वांछित होने के नोटिस तथा सूचना देने वाले या गिरफ्तारी में पुलिस की मदद करने वाले को पच्चीस हजार रूपये देने की घोषणा की है। बदमाशों ने मेरठ के थाना दौराला के कपसाड गांव में कुलदीप हत्या में नामजद हैं, जिसमें मेरठ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने तीनों बदमाशों पर अलग अलग 25 हजार का इनाम घोषित किया हुआ है। अनुज कर्णवाल की हत्या की सुईं इसी हत्याकांड के आसपास घूमती प्रतीत हो रही है।

Next Story